ईटूंदा और धौड़ में 34 बालिकाएं मिली मिसिंग, अध्यक्ष कानूनगो की पड़ताल में हुआ खुलासा

भीलवाड़ा (राजकुमार माली)।  भीलवाड़ा जिले के दो ओर गांवों में 34 बालिकाएं लापता मिली है। जिनका पता लगाने के निर्देश राष्ट्रीय बाल आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए है। कानूनगो भीलवाड़ा जिले में स्टाम्प पर बालिकाओं को बेचने के मामले की जांच करने के लिए आज भीलवाड़ा पहुंचे है।
कानूनगो ने स्टाम्प पर बालिकाओं को बेचने के मामले की जांच के लिए नई रणनीति अपनाते हुए भीलवाड़ा से जहाजपुर क्षेत्र के ईटून्दा ग्राम पहुंचे जहां उन्होंने स्कूल और आंगनबाड़ी का जायजा लिया और वहां का डाटा देखा कि स्कूल में कितनी बालिकाओं का नाम दर्ज है और वे कब से वहां नहीं आ रही है। जो बालिकाएं वहां नहीं आ रही थी उनमें से कई के मकानों पर कानूनगो पहुंचे जहां उन्हें वे बालिकाएं नहीं मिली। पता करने पर संतोषजनक जवाब नहीं मिला। ऐसे में इन बालिकाओं को मिसिंग मानकर इनका पता लगाने के निर्देश एसडीएम और पुलिस अधिकारियों को दिया है। इसी तरह की कार्रवाई उन्होंने धौड़ ग्राम में भी की। इन दोनों ग्राम में 34 बालिकाएं नहीं मिली है। जिन्हें ढूंढकर पता लगाने को कहा गया है। 
राज्य बाल आयोग के पूर्व सदस्य शैलेन्द्र पाण्डे ने दूरभाष पर हलचल को बताया कि कानूनगो ने इस मामले को गंभीरता से लिया है और इन दोनों के गांवों के बाद अब पण्डेर जायेंगे जहां स्टाम्प पर बेची गई बालिकाओं के बारे में जांच पड़ताल करेंगे। 
उल्लेखनीय है कि पण्डेर में जिन बालिकाओं को बेचे जाने की बात सामने आई थी वह मामला जांच पड़ताल में 2019 का निकला है और जिला कलक्टर आशीष मोदी व पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू ने संयुक्त रूप से प्रेस कांफ्रेस कर खुलासा किया था कि इस मामले में पहले ही 25 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। यह मामला नया नहीं है। वहीं हाल ही में मांडलगढ़ क्षेत्र में स्टाम्प पर युवतियों के बेचने की भी शिकायत मिली थे लेकिन जांच पड़ताल में युवतियों ने खुद ही पुलिस के सामने उपस्थित होकर साफ किया है कि उन्हें किसी ने नहीं बेचा है। पुलिस विभाग ने इस संबंध में दो दिन पहले एक प्रेस नोट जारी कर इस बात का खुलासा किया था कि तीन में से दो महिलाओं से पूछताछ हो चुकी है और ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिला जिसमें उन्हें बेचे जाने की जानकारी हो। जबकि एक महिला दूरस्थ प्रदेश में होने से यहां नहीं पहुंच पाई। लेकिन उसने भी यहां जल्द ही आने की बात कही है।
दूसरी ओर कानूनगो आज प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद सायं जिला अधिकारियों से इस संबंध में चर्चा करेंगे और संभावना है कि वे पत्रकारों से भी रूबरू होंगे। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत