बेखौफ हुए बदमाश, दिनदहाड़े दिया चोरी की वारदात को अंजाम

 


मंगरोप (मुकेश खटीक) शहरों की तो दूर गाँवो में भी अब चोर बेखौफ हो चुके है।शायद अब बदमाशों में पुलिस का कोई खौफ नहीं रहा है।आज दोपहर करीब 2 बजे मंगरोप गाँव में हमीरगढ़ मार्ग पर चाय की होटल चलाने वाले रतन लाल पिता लादू लाल प्रजापत के सुने घर के ताले तोड़कर अज्ञात चोरो ने कीमती सामान और नगदी चुरा ली।रतन प्रजापत ने बताया कि‍ उसके घर पर पेटी में रखे 11 हजार 2 सौ रुपये गायब है और क्या क्या चोरी हुआ इसका पता पत्नी के खेत से घर आने पर ही चल पायेगा।पिता लादूलाल दो दिन पहले रिस्तेदारी में मिलने गए थे जिसका फायदा चोरो ने उठाया । चोरी वारदात का पता तब चला जब प्रजापत दिन में घर को देखने आये घर में सामान बिखरा देखकर प्रजापत के होश फाख्ता हो गये । चीख सुनकर आसपास के लोगो की भीड़ जुट गई।लोगों ने चोरी की सुचना पुलिस को दी लेकिन करीब डेढ़ घंटा बीतने के बाद पुलिस मोके पर पहुंची जिससे लोगों ने पुलिस की कार्यशेली पर भी सवाल उठाये।

संजय खटीक ने बताया कि‍ उसने करीब ढाई बजे चोरी की वारदात की सुचना पुलिस थाने पर दी थी।लेकिन थाने पर फोन रिसीव करने वाले कांस्टेबल ने थाने पर वाहन नहीं होने का हवाला देकर फोन काट दिया। करीब ढ़ेड घण्टे बाद वारदात स्थल पर पुलिस ने पहुंचकर चोरी की वारदात का मौका मुआईना किया।ग्रामीणों ने कहा कि‍ इस तरह अगर पुलिस मोके पर नहीं पहुंच सकती हैं तो फिर लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसके जिम्मे। भविष्य में अगर कोई बड़ी वारदात में भी पुलिस की ढीलाई सामने आती है तो फिर क्या लोग राम भरोसे रहेंगे।आये दिन छोटी मोटी चोरियो से चोरो के हौसले दिनों दिन बढ़ते जा रहे है।जिससे ग्रामीणों में रोष व्याप्त है।ग्रामीणों ने 5 दिन के भीतर चोरी की वारदात का खुलासा करने की मांग की है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत