चप्पलों से भरा कार्टन चुराने वाले चोरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पूछताछ में हुआ खुलासा

 

कोटा में चोर को कुछ भी मिल जाए वह अपनी चोरी की आदतों से बाज नहीं आता. किसी का भी घर हो, दुकान हो या सार्वजनिक स्थान हो चोर चोरी के लिए किसी भी सामान को अपना निशाना बना लेते हैं. ऐसे में राजस्थान के कोटा में एक ऐसा भी मामला सामने आया है जब दो चोरों ने 24 जोड़ी चप्पल चुरा ली. हालांकि बाद में चोरों को कोटा की कैथूनीपोल पुलिस  ने पकड़ लिया. पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जिनसे चप्पल चोरी के बारे में पूछताछ की जा रही है.

चप्पल के कार्टून उठाकर ले गए चोर
कैथूनीपोल पुलिस ने दुकान के बाहर से कार्टन चोरी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस अधीक्षक जिला कोटा शहर केसर सिंह शेखावत ने बताया कि मोदी हाउस के पीछे गुमानपुरा के रहने वाले फरियादी परमजीत सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराकर बताया कि 25 नवम्बर को शाम करीब 7 बजे मैं अपनी दुकान के बाहर सीप्राइड कंपनी के चप्पल के कार्टून को पिडावा भिजवाने के लिए दुकान के बाहर रखा था. इसमें कुल 24 जोड़ी चप्पलों के अलग अलग बॉक्स थे जिसे अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गए. 

एसपी ने बताया कि, इस शिकायत के बाद कोटा शहर के थाना कैथूनीपोल में चोरी का केस दर्ज कर जांच शुरू की गयी. पुलिस ने रविवार को इस मामले में आरोपी मुकुल गौतम और शुभम शर्मा को गिरफ्तार कर लिया.

चप्पल के कार्टन बरामद, बाइक जब्त
पुलिस ने बताया कि मुखबिर की सूचना को आधार मानकर आरोपियों को तलाश किया गया. आसपास लगे सीसीटीवी भी देखे गए. उसके बाद पहचान कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने चोरी की गई 24 जोड़ी चप्पल भी बरामद कर लिया है. साथ ही चोरी के काम में ली गई मोटर साइकिल को भी जब्त किया गया है. पुलिस पूछताछ में इन चोरों ने दूसरी वारदात भी कबूल की है.

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत