घास भेरू के यहां हुई भजन संध्या, भक्त थाने बुलावे भजनो मे भैरु बेगा आजो

 


शाहपुरा-मूलचन्द पेसवानी 
शाहपुरा में चमना बावडी, शि‍वाजी मार्ग पर एकादषी कि पुर्व संध्या पर श्री घास भैरु सेवा समिति द्वारा विषाल भजन संध्या का आयोजन रखा गया है। जिसमें विभिन्न क्षैत्र से आये राजस्थानी कलाकारों ने श्रोताओं एवं दर्षको को अपनी आर्कषक व रोमांचक प्रस्तुतियों से मंत्र मुक्त कर दिया। 
मुख्य कलाकार महेन्द्र गुर्जर व सुगना बाई ने मधुर भंजनो की प्रस्तुति व ड़ांसर षिवानी, मिठु, रामस्वरुप ने श्रोताओं व दर्षको को नाचने पर मजबूर कर दिया। मुख्य अतिथि सीताराम महाराज, पार्षद राजेष खटीक की अध्यक्षता में आयोजित समारोह मे गुमादे मारा बालाजी घूर-घमर गोटो जिसमें नृत्य कलाकार षिवानी ने नृत्य किया। जिसमें श्रोता को ताली बजानें पर मजबूर कर दिया। हास्य कलाकार रामस्वरुप ने हास्य प्रस्तुतियां देकर दर्षकों को गुदगुदाया। 
संध्या में भजन मन घाडेल्यो मगवा महारी मां मने घाडेल्यो मगवा, हर घर में रावण बैठा ईतने राम कहां से लाऊं, कान्हा काकरिया मत म्हारे मटकीयाॅंे फूट जावेली, गुरू बिना गौर अन्धेरा संताओं प्रस्तुत किया गया। 
श्री घास भैरु सेवा  समिति द्वारा अतिथियों का सभी कार्यकर्ता ने स्वागत किया। अर्पित ठठेरा, महेष सोनी, पुष्पेन्द्र कोली, लालचन्द, सुरेष कहार, गोपाल कहार, सांवरा कहार, महावीर कहार, चेतन सिन्धी, मुरली ओझा ने स्वागत किया। कोली समाज विकास संस्थान के अध्यक्ष नरेष कुमार कोली ने बताया कि भजन संख्या चार बजे तक चली तथा घास भैरु की सुबह चार बजे आरती की गई व प्रसाद वितरित किया गया। भजन संध्या का संचालन अर्पित ठठेरा ने किया। इससे पूर्व घास भैरु की महा आरती की गई।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार