कनेक्शन काटने से गुस्साये ग्रामीण ने तकनिकी कर्मचारी से की धक्का-मुक्की, पत्थर से किया हमला, दस्तावेज फाड़े, केस दर्ज

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। बिजली बिल जमा नहीं कराने पर कनेक्शन काटने से खफा ग्रामीण ने बिजली निगम के तकनिकी कर्मचारी से न केवल धक्का-मुक्की व पत्थर फैंके, बल्कि  सरकारी दस्तावेज तक फाड़ दिये। इसे लेकर बिजौलियां पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है।  
 बिजौलियां पुलिस ने बीएचएन को बताया कि करजुना, बूंदी निवासी  सुखदेव पुत्र गोपाल मीणा अभी  कार्यालय सहायक अभियंता अजमेर विदयुत वितरण निगम लिमिटेड बिजोलिया के अधीनस्थ तकनिकी सहायक के पद पर कार्यरत है। मीणा की ड्यूटी 11 केवी रामपुरिया फीडर पर फीडर इन्चार्ज के पद पर लगी है।तकनिकी सहायक मीणा, मंगलवार को सुबह आठ बजे   निजी वाहन से बकाया वसूली की लिस्ट एवं फीडर इंचार्ज रजिस्टर लेकर बकाया बिल की राशि की वसूली कार्य एवं कनेक्शन काटने के लिए रघुनाथपुरा गया था ।
वहां रघुनाथपुरा निवासी अर्जुन पुत्र उमराव सिंह राजपूत ने अचानक आकर तकनिकी सहायक मीणा को पकड़ लिया और गाली-गलौच करने लगा। मीणा ने अर्जुन सिंह को समझाने का प्रयास किया कि कार्यालय के आदेश होने से ही उसका कनेक्शन काटा गया था। लेकिन अर्जुन सिंह ने गाली-गलौच करते हुये मीणा को धक्का मारकर सरकारी दस्तावेज छीन कर फाड़ दिये। मीणा का शर्ट भी फाड़ दिया। बचाव में मीणा भागा तो उस पर पत्थरों से हमला किया। इससे बायें हाथ पर पत्थर की चोट लगी। 
मीणा, बड़ी मुस्किल से जान बचा कर श्यामपुरा ऑफिस पर पहुंचा और कनिष्ठ अभियंता को सूचना दी। मीणा ने बिजौलियां थाने में दी रिपोर्ट में बताया कि अर्जुन सिंह के पिता उमराव पुत्र महोनर सिंह के खाता स. 2172/008 के नाम से घरेलु विदयुत कनेक्शन है।  जिस पर विदयुत बिल की राशी 6 हजार 619 रुपये बकाया होने से कार्यालय सहायक अभियन्ता द्वारा कनेक्शन विच्छेद के आदेश 15 नवंबर 22 को दिये। इसकी पालना में 21 नवंबर 22 को तकनिकी कर्मचारी मीणा द्वारा कनेक्शन काट दिया था। मंगलवार को  वह रघुनाथपुरा में बरदा रामा बलाई के कनेक्शन विच्छेद के 15 नवंबर 22 के आदेश की पालना एवं विभिन्न बकाया बिल की वसूली के लिए गया था। जिस पर अर्जुन सिंह ने मीणा के साथ गाली गलोच करते हुये पत्थरों से जान लेवा हमला किया गया । पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी। 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार