सुविधा के लिए डिब्बे बढ़ाये, भीलवाड़ा के रास्ते चलने वाली ट्रेनों में एक दिसंबर से मिलेगी सुविधा

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। उत्तर-पश्चिम रेलवे अपने यात्रियों की सुविधाओं के लिए नित-नये प्रयास करता है। इसी के तहत अब भीलवाड़ा के रास्ते और उदयपुर से संचालित ट्रेनों में कोच की अस्थाई बढ़ौत्तरी का निर्णय लिया है। यह सुविधा भीलवाड़ा के रास्ते संचालित रेल गाडिय़ों में एक दिसंबर से मिलेंगी। 
 रेलवे सूत्रों के अनुसार, गाडी संख्या 20473/20474, दिल्ली सराय-उदयपुर सिटी-दिल्ली सराय रेलसेवा में दिल्ली सराय से  1 दिसंबर 22 से 31 दिसंबर 22 तक तथा उदयपुर सिटी से 2 दिसंबर 22 से  1 जनवरी 2023 तक मिलेगी। इसी तरह द्वितीय शयनयान श्रेणी डिब्बों की अस्थाई बढौत्तरी की जा रही है। गाडी संख्या 20971/20972, उदयपुर सिटी-शालीमार-उदयपुर सिटी रेलसेवा में उदयपुर सिटी से  3 दिसंबर से 31 दिसंबर 22 तक एवं शालीमार स 4 दिसंबर 22 से 1 जनवरी 23 तक 1 थर्ड  एसी श्रेणी डिब्बे की अस्थाई बढौतरी की जा रही है।इसी तरह गाडी संख्या 12991/12992, उदयपुर-जयपुर-उदयपुर रेलसेवा में 1 दिसंबर 22 से 31 दिसंबर 22 तक  2 साधारण श्रेणी व  1 द्वितीय कुर्सीयान श्रेणी डिब्बे की, जबकि गाडी संख्या 12996/12995, अजमेर-बान्द्रा टर्मिनस- अजमेर रेलसेवा में अजमेर से 1 दिसंबर 22 से 31 दिसंबर 22 तक एवं बान्द्रा टर्मिनस से 2 दिसंबर 22 स 1 जनवरी 23 तक 02 थर्ड  एसी इकोनोमी श्रेणी डिब्बो की अस्थाई बढोतरी की जा रही है।  गाडी संख्या 19711/19712, जयपुर-भोपाल-जयपुर रेल सेवा में जयपुर स 1 दिसंबर 22 से 31 दिसंबर 22 तक एवं भोपाल से 2 दिसंबर 22 से 1जनवरी 23 तक 01 थर्ड  एसी इकोनोमी श्रेणी डिब्बे की अस्थाई बढौत्तरी की जा रही है। गाडी संख्या 12465/12466, इंदौर-जोधपुर-इंदौर एक्सप्रेस में इंदौर से 2 दिसंबर 22 से  1 जनवरी 23 तक एवं जोधपुर 3 दिसंबर 22 से  2 जनवरी 23 तक 02 साधारण श्रेणी डिब्बों की अस्थाई बढोतरी की गई है। गाडी संख्या 19601/19602, उदयपुर सिटी-न्यूजलपाईगुडी- उदयपुर सिटी रेलसेवा में उदयपुर सिटी से  3 दिसंबर 22 से 31 दिसंबर 22 तक एवं न्यूजलपाईगुडी से 5 दिसंबर 22 से 2 जनवरी 23 तक 1 थर्ड  एसी श्रेणी डिब्बे की अस्थाइ्र्र  बढोतरी की जा रही है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग