प्रताप नगर पुलिस के हत्थे चढ़ी लुटेरी गैंग, शहर में हुई लूट व चोरियों का आज खुलेगा राज

 


  भीलवाड़ा विजय / आकाश गढ़वाल।एक से पांच नवंबर तक आतंक का पर्याय बन चुकी लुटेरी गैंग जल्द ही प्रताप नगर पुलिस के शिकंज में होगी। अब इस गैंग से आमजन को डरने की जरुरत नहीं है। संभावना है कि सोमवार को पुलिस इस वारदात का खुलासा कर देगी। बता दें कि चालिस पुलिसकर्मियों की रात दिन की मेहनत के बाद इस गैंग का महत्तवपूर्ण क्लू पुलिस के हाथ लगा है। इसी के आधार पर पुलिस ने चार से पांच संदिग्धों को डिटेन कर लिया है, जिनसे गहने पूछताछ की जा रही है। 
सूत्रों के अनुसार, शहर के प्रताप नगर थाना इलाके में एक नवंबर से एक ऐसी गैंग ने दस्तक दी, जो अल सुबह आमजन को निशाना बनाकर लूटपाट करने लगी। कभी एक बाइक से चार तो कभी दो बाइक से छह बदमाश सड़कों पर निकलते और रोड़ पर चलते जो भी नजर आया, उसे निशाना बना लेते। चाहे उसके पास कुछ मिले या नहीं। बदमाशों ने चित्तौडग़ढ़ हाइवे पर लूटपाट का पहला प्रयास किया था। इसके बाद तीन नवंबर को अल सुबह आजाद नगर में दो डेयरी बूथ संचालकों पर हमला कर नकदी लूट ली। जयपुर से भीलवाड़ा आये नीमच के प्रोपर्टी डीलर पर गायत्री आश्रम के नजदीक हमला कर बैग व नकदी लूट ली। इसके बाद इन बदमाशों ने 5 नवंबर को आधीरात को एक बार फिर ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम दिया। इन बदमाशों ने कोठारी नदी के किनारे एक आश्रम में प्रवेश कर महंत पर जानलेवा हमला कर लूटपाट की। गुलाब वाटिका क्षेत्र में डेयरी संचालक को लूटा। जोधड़ास चौराहे के पास कंबल विक्रेता, सुखाडिय़ा सर्किल पर टेंपो चालक, मिर्च मंडी पर मिर्ची नींबू बैचने वाले को, जबकि लैंडमार्क पर एक यात्री को लूटा था। 
एक ही रात में ताबड़तोड़ वारदातों को गंभीरता से लेते हुये शनिवार को ही पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने सुभाषनगर थाने में पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर इन लुटेरों को जल्द से जल्द पकडऩे के निर्देश दिये थे। इसके साथ ही एएसपी ज्यैष्ठा मैत्रेयी, डीएसपी सिटी नरेंद्र दायमा, डीएसपी सदर रामचंद्र चौधरी के सुपरविजन में 40 अधिकारियों व पुलिसकर्मियों की टीम बनाई। इसमें प्रताप नगर थाना प्रभारी राजेंद्र गोदारा, पुर थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर,कोतवाल मुकेश वर्मा, भीमगंज थाना प्रभारी, सुभाषनगर थाना प्रभारी नंदलाल रिणवा, डीएसटी, साइबर सैल स्टॉफ को शामिल किया गया। 
सूत्रों की माने तो प्रताप नगर थाना प्रभारी गोदारा के नेतृत्व में बदमाशों तक पहुंचने के लिए बिना सोये पुलिस टीम ने सैकड़ों कैमरों की डिटेल खंगाली, गली-गली में सुराग जुटाये। साइबर सैल की मदद ली। इसके बाद पुलिस को ऐसा क्लू हाथ लगा कि पुलिस बदमाशों के नजदीक तक पहुंच गई। पुलिस ने पांच संदिग्धों को डिटेन कर कड़ी पूछताछ शुरु की है। ये बदमाश अभी शहरी क्षेत्र में ही किराये से रह रहे थे। कहा तो यह भी जा रहा है कि बदमाश शराब पीने के आदी है और नशा करने के बाद ये ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम दे रहे थे। इसके अलावा केबीनों में चोरी, वाहन चोरी की वारदातों को भी ये अंजाम दे चुके हैं। शहरी क्षेत्र में बीते 5 दिनों में हुई लूटपाट की वारदातों के साथ ही छोटी-बड़ी करीब एक दर्जन चोरी की वारदातें भी इस गिरो से खुलने की संभावना जताई जा रही है। सूत्र बताते हैं कि सोमवार तक प्रताप नगर पुलिस इन बदमाशों को हवालात दिखाते हुये वारदात का खुलासा कर सकती है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत

बेटे का आरोप-ब्लैकमेलिंग से परेशान था मोहम्मद रईस, विषाक्त सेवन कर शिकायत देने गया था एसपी ऑफिस