कलक्टर-एसपी ने की शांति की अपील, अपराधियों को पकडऩे के लिए टीमों का गठन, भीलवाड़ा हाई अलर्ट पर

 भीलवाड़ा (हलचल)। भीलवाड़ा में एक बार फिर फायरिंग के बाद माहौल गरमा गया है और पुलिस ने मोर्चा संभालते हुए संवेदनशील इलाकों में चौकसी बढ़ा दी है। इस बीच हत्या के मामले में कुछ संदिग्ध लोगों को भी हिरासत में लेने की जानकारी मिली है। हत्या के पीछे पुरानी रंजिश की बात सामने आई है। आरोपी ने दोनों लोगों को पास से गोली मारी है। 

भीलवाड़ा के बड़ला चौराहे पर आज उस समय अफरा तफरी मच गई जब एक के बाद एक जब चार फायर हुए और दो युवक गंभीर रूप से घायल हो गये। हमलावर बाद में एक कार से फरार हो गये। मेहताब की टाल के निकट रहने वाले दोनों घायल युवकों को उपचार के लिए महात्मा गांधी अस्पताल लाया गया जहां एक की मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो हमलावर ने बाइक पर जा रहे मुंशी खां के पुत्रों को नजदीक से गोली मारी। बड़ला चौराहे के निकट डेयरी के पास हुई इस घटना से हड़कम्प मच गया और गोलियों के खोल इधर उधर बिखर गये और वहां बड़ी संख्या में फायरिंग की आवाज सुनकर लोग जमा हो गये। घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ज्येष्ठा मैत्रेयी के साथ ही अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। इस बीच अस्पताल में गुस्साए लोगों ने तोडफ़ोड़ की और कुछ युवकों ने तो गंभीर चेतावनी भी दी। माहौल में गरमाहट को देखते हुए संवेदनशील क्षेत्रों में पुलिस बल तैनात कर दिया और पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा गया है। 

इस बीच यह जानकारी भी आई है कि कुछ दिन पहले पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लिया था और उसके पास कुछ आपत्तिजनक सामग्री भी मिली थी लेकिन इसकी पुष्टि अभी नहीं हो पाई है। आज हत्या के बाद इस बात की लोगों में चर्चा थी कि पुलिस सतर्क होती तो आज की घटना टल सकती थी। जिसे पकड़ा गया उसका संबंध चित्तौडग़ढ़ जिले के एक व्यक्ति से भी होने की बात सामने आई है लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उसकी गिरफ्तारी हुई या नहीं। 

जिला कलक्टर आशीष मोदी ने बताया कि माहौल को देखते हुए पूरे शहर में चौकसी बढ़ा दी गई है और ऐहतियात के तौर पर इंटरनेट सेवाएं बन्द करने का फैसला किया है। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। ऐसी ही अपील पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू ने भी की है। उन्होंने कहा कि आरोपियों के पकडऩे के सभी प्रयास तेज कर दिए गए है और टीमों का गठन किया गया है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार