एक माह में भी नहीं हो रही है जनसुनवाई, भीलवाड़ा रोड़ की दशा को लेकर आक्रोश, दोबारा ज्ञापन देकर प्रशासन से लगायी गुहार

 


शाहपुरा-मूलचन्द पेसवानी 
शाहपुरा में गुरूवार को पंचायत समिति में आयोजित जनसुनवाई के दौरान शाहपुरा जागरूक संस्थान की ओर से शाहपुरा -भीलवाड़ा टोल रोड़ की दशा सुधारने तथा टोल नाके की व्यवस्थाओं को सुधारने के संबंध में शिकायत दर्ज करायी। संस्थान के सदस्यों ने उपखंड अधिकारी को बताया कि एक माह में दो बार शिकायत दर्ज कराने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं किया गया। संबंधित विभागीय अधिकारियों की उपेक्षा के कारण समाधान न होने को लेकर संस्थान के सदस्यों ने आक्रोश जताया। 
आज दिये गये शिकायत पत्र में उपखंड अधिकारी सुनिता यादव को बताया गया कि रोड़ की दशा खराब होने के कारण आवागमन करने वालों को काफी परेशान होना पड़ रहा है। विशेष रूप से प्रसव वाली महिलाओं को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत पत्र में कहा गया है कि प्रतिदिन हो रही परेशानी के कारण लोगों का सरकार व शासन से विश्वास उठ रहा है। इस पर उपखंड अधिकारी ने आश्वस्त किया कि उनकी विभागीय अधिकारियों से वार्ता हो चुकी है, समाधान शीघ्र कराया जायेगा। 
संस्थान अध्यक्ष भगवान सिंह यादव की अगुवाई में दिये गये शिकायत पत्र में कहा गया है कि शाहपुरा-भीलवाड़ा टोल रोड़ होने के बावजूद करीब 100 से ज्यादा स्थानों पर यह रोड़ क्षतिग्रस्त है। रोड़ क्षतिग्रस्त होने से आवागमन की समस्त व्यवस्थाऐं ध्वस्त हो रही है। आवागमन में अधिक समय लग रहा है। गौरतलब है कि उक्त रोड़ पर शाहपुरा के तमाम ब्लाॅक स्तरीय अधिकारी एवं जिला स्तरीय अधिकारियों के आवागमन होने के बावजूद भी क्षतिग्रस्त सड़क की मरम्मत का ना होना नये भ्रष्टाचार को उत्पन्न होने का संदेह उत्पन्न करता है। पूर्व में भी टोल नाके के पास तथा बनेड़ा में इस सम्बन्ध में धरना प्रदर्शन हो चुके हैं। शाहपुरा एसडीओ के यहां पर दो बार शिकायत दर्ज करायी गयी है। शिकायत पत्र में यह भी कहा है कि इस रोड़ पर स्थित टोल नाके का संचालन किस कम्पनी के द्वारा किया जा रहा है। 
शिकायत पत्र में कहा गया है कि इस टोल नाके का संचालन राज्य सरकार की तय नीति एवं रोड़ काँग्रेस के निर्देश की अनुपालना में नही किया जा रहा है। टोल नाके पर किसी भी प्रकार की सूचनाऐं चस्पा न होने के कारण भी टोल की वसूली मनमाने ढंग से की जाकर अवैध रूप से वसूली की जाती है। 
संस्थान के महासचिव कवि दिनेश बंटी ने बताया कि शिकायत पत्र में जागरूक संस्थान, शाहपुरा ने चेतावनी भरे शब्दों में कहा है कि शिकायत पत्र में अंकित बिन्दुओं की जाँच करवाकर लोगों को राहत दिलावें तथा अन्यथा एक सप्ताह में मजबूरीवश आंदोलन के साथ न्यायालय की शरण लेनी होगी। आज जागरूक संस्थान, शाहपुरा के शिकायत पत्र के समय समाजसेवी शिवकुमार सोमाणी, संस्थान के महासचिव कवि दिनेश बंटी, देव पाराशर, जितेंद्र पाराशर आदि मौजूद रहे।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत