बिजली विभाग का JEN 15 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

 


बूंदी एसीबी टीम ने बारां जिले में कार्रवाई करते हुए केलवाड़ा बिजली विभाग के जेईएन विक्रम मीणा को रंगे हाथों पकड़ा। सौदा 25 हजार रुपये में तय हुआ था और 10 हजार रुपये सत्यापन के समय दिए जा चुके थे। सौदे के मुताबिक, 15 हजार रुपये की राशि बुधवार को दी जानी थी।

बता दें कि 15 हजार रुपये की राशि देने के बाद बूंदी एसीबी ने रिश्वतखोर जेईएन विक्रम मीणा को दबोच लिया। अचानक हुई कार्रवाई से आरोपी घबरा गया और उत्तेजित होकर एसीबी की टीम पर हमला कर दिया। एसीबी टीम मेंबर का मोबाइल फोड़ दिया। बूंदी एसीबी टीम इंचार्ज ज्ञानचंद मीणा के नेतृत्व में कार्रवाई की गई। पिछले काफी समय से आरोपी जेईएन विक्रम मीणा परिवादी को रिश्वत के लिए परेशान कर रहा था। परिवादी ने तंग आकर एसीबी में शिकायत दी। मामले का सत्यापन करवाया गया। सत्यापन के दौरान आरोपी जेईएन विक्रम मीणा ने 10 हजार रुपये की राशि ले ली।

सत्यापन हो जाने के बाद चूंकि सौदा 25 हजार रुपये में तय हुआ था तो बाकी की रकम 15 हजार रुपये बाद में दिए जाने थे। सौदे के अनुसार 15 हजार रुपये की रकम लेकर परिवादी आरोपी विक्रम मीणा के पास पहुंचा और उसे पैसे दे दिए। पैसे देने के बाद परिवादी का इशारा पाकर एसीबी की टीम ने आरोपी जेईएन विक्रम मीणा को दबोच लिया। अचानक हुई कार्रवाई से आरोपी घबरा गया और उत्तेजित होकर एसीबी टीम पर हमला कर दिया। हमले में एसीबी टीम मेंबर का मोबाइल टूट गया। फिलहाल, आरोपी एसीबी की गिरफ्त में है और ट्रैप की कार्रवाई पूरी करने के लिए आरोपी को अपने साथ ले गई है। जहां से उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

पुष्पवर्षा के लिए जयपुर से हेलीकॉप्टर रवाना

चारभुजा के लिए पैदल जा रहे युवक को बाइक ने मारी टक्कर मौत