Wednesday, May 26, 2021

बाबा रामदेव पर 1000 करोड़ का मानहानि का केस का नोटिस, IMA ने 15 दिनों में मांगा जवाब

 


नई दिल्ली ।डॉक्टरों और एलोपैथी का मजाक उड़ानेवाले वीडियो के बाद से बाबा रामदेव की मुसीबतें कम नहीं हो रही हैं। इस सिलसिले में दो बार सफाई देने और माफी मांगने के बावजूद डॉक्टरों का गुस्सा कम नहीं हो रहा है। अब IMA उत्तराखंड ने बाबा रामदेव को 1000 करोड़ रुपये की मानहानि का नोटिस भेजा है। बाबा रामदेव को छह पेज के इस नोटिस में उन्हें 15 दिनों का अल्टीमेटम दिया गया है, जिसमें उनसे अपने बयान का खंडन करते हुए एक वीडियो जारी करने और लिखित माफी मांगने की डिमांड की गई है। ऐसा नहीं करने पर उनसे 1000 करोड़ रुपये की मांग की जाएगी। इसमें बाबा रामदेव से सोशल मीडिया से अपने बयान को डिलीट करने की मांग करते हुए कहा गया है कि उनके बयान से आईएमए उत्तरखंड से जुड़े दो हजार सदस्यों का अपमान हुआ है और एक डॉक्टर के 50 लाख की मानहानि के अनुसार हम एक हजार करोड़ की मानहानि का केस करेंगे। नोटिस के मुताबिक बाबा रामदेव ने अपने बयान के जरिए ऐलोपैथी से जुड़े डॉक्टरों की छवि को समाज में धूमिल करने का प्रयास किया है।

डाउनलोड करें भीलवाड़ा हलचल ऐप , पाएं भीलवाड़ा, राजस्थान और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस ।:

 

नोटिस के जरिए आईएमए ने बाबा रामदेव को 76 घंटे के अंदर दिव्य श्वासारि कोरोनिल किट के विज्ञापन के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से हटाने के लिए भी कहा है। बाबा रामदेव ने इसे कोरोना वैक्सीन के दुष्प्रभाव से बचाने वाला बताया है। डॉक्टरों के मुताबिक इस तरह का विज्ञापन लोगों का मनोबल कम करता है। डॉक्टर ने कहा कि अगर बाबा रामदेव सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से इस तरह के विज्ञापन नहीं हटाते तो उनके खिलाफ आईपीसी की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज होगी।

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...