ग्राम पंचायत में महिला सरपंच को धक्का देकर कुर्सी पर गिराया, जातिगत किया अपमानित, पति को भी धमकाया, 3 पर केस दर्ज


 भीलवाड़ा बीएचएन। रायपुर पंचायत समिति की ग्राम पंचायत गलवा मे घुसे तीन लोगों ने महिला पदेन सरपंच लेखा सालवी को न केवल जातिगत अपमनित किया, बल्कि उन्हें धक्का देकर कुर्सी पर गिरा दिया। इतना ही नहीं, सरपंच व उसके पति को आरोपितों ने मौका मिलने पर काटने की धमकी तक दे डाली। सरपंच ने तीनों पर यह आरोप लगाते हुये रायपुर थाने में केस दर्ज करवाया है, जिसमें इन लोगों से जानमाल का खतरा होने की आशंका जताई है। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुुरु कर दी।
रायपुर पुलिस ने बीएचएन को बताया कि सिंहपुरा निवासी व गलवा ग्राम पंचायत की महिला पदेन सरपंच लेखा पत्नी सुरेशचंद्र सालवी ने रिपोर्ट दी। इसमें  बताया गया है कि 4 अगस्त को  10.15 बजे  रमेश उर्फ  रामेश्वर लाल पुत्र  मोहन लाल जाट निवासी पीथा का खेड़ा , बद्री लाल पुत्र गोकल  जाट निवासी चावण्ड खेडा गलवा व कोट निवासी कन्हैया लाल पुत्र लेहरु लाल जाट को आरोपित बनाया है। सरपंच लेखा का आरोप है कि ये तीन आरोपित साजिश रच कर ग्राम पंचायत में घुस आये । उनसे यह पूछने पर कि आप लोग कहा जा रहे हो तो इन लोगों  सरपंच से कहा कि  ग्राम पंचायत में आज टेण्डर है । उसके लिये कोपी डालने के लिये आये  हैं। सरपंच ने इन लोगों से कहा कि एक व्यक्ति अन्दर आ जाओ और एक कोपी डाल दो । इस पर आरोपितों ने सरपंच की बात को अनसुना करते हुए कमरे घुस गये और सरपंच को जातिगत अपमानित किया। सरपंच अपनी कुर्सी से खड़ी हो गई। इन लोगों को रोकने की कोशिश की तो आरोपितों ने उन्हें धक्का दे दिया, जिसस वे अपनी कुर्सी पर गिर गई ।
आरोपित भी बाहर चले गये। फिर मोबाइल में वीडियो चालू कर वे पुन: ग्राम पंचायत के कमरे में घुस गये और टैंडर कॉपी डाली। सरपंच का आरोप है कि आरोपित जानबुझ कर साजिश रचते हुए ग्राम पंचायत में आये और राजकीय कार्य में बाधा पहुंचाई। इसके बाद ग्राम पंचायत में  हल्ला हो गया तो ग्रामीणों ने सरपंच का बीच-बचाव किया। आरोपितों ने जाते हुये सरपंच व उनके पति सुरेश को धमकी दी कि मौका मिलने पर तुम्हारे को काट कर बतायेंगे । सरपंच व उनके पति को जानमाल का खतरा होने की आशंका जताई है।  पुलिस ने मामला जुर्म धारा 332, 353,506 भादस व एससीएसटी एक्ट में दर्ज किया है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा