बिजली विभाग की लापरवाही: हादसों को न्यौता दे रहे ट्रांसफार्मर, डीपी व खंभे, बच्चे भी नहीं सुरक्षित

 


भीलवाड़ा संपत माली
शहर में लगे विद्युत ट्रांसफार्मर हादसों को न्यौता दे रहे हैं लेकिन बिजली विभाग अपनी लापरवाही नहीं छोड़ रहा है। आज हम आपको दिखाते हैं शहर के चार ऐसे स्थान, जहां दिनभर लोगों की आवाजाही रहती है। ऐसे में कभी कोई हादसा होने पर जनहानि से इनकार नहीं किया जा सकता। इस खतरे की जद में दो स्कूलें भी हैं जहां बच्चों के साथ भी कभी हादसा हो सकता है।
पिछली बार तेज बरसात के दौरान अग्रवाल उत्सव भवन के पास टीनशेड व बिजली के खंभे गिर गए थे। उस दौरान गिरे सभी खंभों को तो बिजली विभाग ने सही कर दिया लेकिन उत्सव भवन के पास कॉर्नर पर लगा पोल अभी भी टेढ़ा ही खड़ा है। तार नीचे तक झूल रहे हैं। यहां से पैदल राहगीरों सहित सभी प्रकार के वाहन गुजरते हैं। ऐसे में हादसा होने से इनकार नहीं किया जा सकता।
महिला आश्रम स्कूल के पीछे के गेट की ओर लगा ट्रांसफार्मर भी हादसों को न्यौता दे रहा है। छुट्टी के समय स्कूल के पीछे का गेट खोल दिया जाता है और बच्चे यहां से गुजरते हैं। ऐसे में ट्रांसफार्मर के आसपास सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं जिससे बच्चे उधर से गुजरते वक्त हादसे का शिकार हो सकते हैं।
कुछ ऐसा ही हाल महेश स्कूल के बाहर लगी डीपी का है। यहां झाड़ियों में डीपी दिखाई ही नहीं देती। जमीन पर डीपी होने और यहां से स्कूल के बच्चों की आवाजाही भी कभी बड़ी घटना को अंजाम दे सकती है।
भोपाल क्लब के बाहर लगा ट्रांसफार्मर भी किसी खतरे से कम नहीं है। इसके चारों ओर लगाई गई जाली टूट चुकी है। तार खुले पड़े हैं लेकिन सुध लेने वाला कोई नहीं है।  ताज्जुब की बात तो यह है कि यहां एक फुटकर महिला बैठती है और वह अपनी छतरी को ट्रांसफार्मर के चारों ओर बनाई गई जाली में फंसाकर रखती है लेकिन उसे रोकने या टोकने वाला कोई नहीं है। ऐसे में कभी ट्रांसफार्मर में स्पार्किंग होने और ब्लास्ट होने की स्थिति में बड़े हादसे की आशंका बनी हुई है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा