बिजौलियां में बड़ी वारदात, बेवा के घर से साढ़े बारह लाख का माल ले उड़े बदमाश

 


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। बिजौलियां में बदमाश बेकाबु होने लगे हैं। लोगों की माने तो पुलिस गश्त प्रोपर नहीं होने से इस तरह की वारदातें होने लगी है। ऐसी ही एक और वारदात सतकुडिय़ा गांव से सामने आई है, जहां बेरहम चोरों ने एक बेवा के घर में खिड़की के रास्ते प्रवेश कर दस लाख रुपये की नकदी और 2 लाख 50 हजार रुपये के जेवरात चुरा लिये। बता दें कि महिला का पत्थर व्यवसायी पति कुछ समय पूर्व बीमार हो गया था। उसके इलाज के लिए रुपयों की जरुरत थी और इसी के चलते व्यवसायी की लोगों में बकाया राशि एकत्रित की गई थी। पति की मौत के बाद परिवार के लोग सामाजिक कार्यक्रमों में व्यस्त हो गये, जिसके चलते राशि बैंक में जमा नहीं करवा पाये थे। 
पुलिस सूत्रों के अनुसार, बिजौलियंा थाने के सतकुडिय़ा गांव की नटी 60 पत्नी स्व. भैंरूलाल भील के मकान के पिछवाड़े लगी खिड़की को चोरों ने बीती रात को तोड़ दिया। इस दौरान परिवार के लोग कमरे के बाहर सो रहे थे। चोर, खिड़की के रास्ते कमरे में घुसे। जहां उन्हें एक लोहे का बक्सा रखा मिला। चोरों ने बक्से की तलाशी ली तो उसमें रखे दस लाख रुपये व करीब 2 लाख 50 हजार रुपये के सोने-चांदी के आभूषण इन चोरों के हाथ लग गये। इस वारदात की भनक हाथों हाथ परिवार के लोगों को नहीं लग पाई। शनिवार सुबह जाग होने पर परिवार के सदस्यों को बक्से में रखे सामान बिखरे हुये व खिड़की टूटी हुई मिली तो वे सकते में आ गये। सार-संभाल की तो नकदी व जेवरात गायब थे। 
बाद में पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और वारदात की जानकारी ली। साथ ही पीडि़त परिवार की रिपोर्ट लेकर चोरी का मामला दर्ज कर लिया। पुलिस का कहना है कि चोरों की तलाश की जा रही है। उधर, क्षेत्रीय लोगों को कहना है कि पुलिस की प्रोपर गश्त के अभाव में बदमाशों की चहल-कदमी इलाके में बढऩे लगी है। वहीं ऐसे मामलों को रोकने में असफल पुलिस अब मामले मीडिया तक न पहुंचे, इसके लिए ऐसे मामलों को छिपाने लगी है।  थाना स्टॉफ को भी इस संबंध दिशा-निर्देश मिले हैं।    

पति बीमार था, तो उधारी वसूल कर जमा की थी राशि
नटी का पति भैंरूलाल भील पत्थर व्यवसायी था। कुछ समय पहले भैंरूलाल भील बीमार हो गया था। तबीयत ज्यादा खराब होने से परिजनों को रुपयों की आवश्यकता लगी तो उन्होंने भैंरू के लोगो में उधार रुपये एकत्रित किये। करीब दस लाख रुपये होने पर यह राशि घर में रखी थी, लेकिन एक माह पहले भैंरू की मौत हो गई। इसके बाद परिवार के लोग राशि को बैंक में जमा नहीं करवा पाये थे। 
सोमवार को बैंक में जमा कराने थे दस लाख
परिवार के लोगों ने पुलिस को बताया कि यह दस लाख रुपये सोमवार को बैंक जाकर जमा कराने थे, लेकिन इससे पहले ही चोरों ने घर पर धावा बोलकर यह राशि चुरा ली। उधर, चोरी की इस बड़ी वारदात से सतकुडिय़ा के बाशिंदे सकते में नजर आ रहे हैं। 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

VIDEO आसींद में युवक से मारपीट, तोड़फोड़, आगजनी का प्रयास, बाजार बंद, दो के खिलाफ रेप का मामला दर्ज