जिले में कानून एवं शांति व्यवस्था को लेकर बैठक आयोजित

 

भीलवाड़ा। जिले में आगामी पर्वों को शांति एवं सौहार्दपूर्ण रूप से मनाएं जाने तथा कानून व शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिला मजिस्ट्रेट श्री आशीष मोदी की अध्यक्षता में शनिवार को जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारियों व पुलिस विभाग के अधिकारियों के साथ राजीव गांधी सेवा केन्द्र परिसर में वीसी के माध्यम से बैठक का आयोजन किया गया। 

जिला कलक्टर ने शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने उपखण्ड अधिकारियों से कहा कि विभिन्न जुलुस, यात्रा एवं रैलियों इत्यादि को शांतिपूर्ण तरीके से निकालने के लिए आयोजनकर्ताओं के साथ निरंतर संवाद बनाए रखे। उपखंड अधिकारी व पुलिस के अधिकारी निर्धारीत रूट चार्ट के अनुसार मार्गों का स्वयं निरीक्षण करें।

आगामी पर्वों को देखते हुए जिला कलक्टर ने अधिकारियों से जहां सीएलजी बैठक नहीं हुई है, वहां बैठक सुनिश्चित करने को कहा। साथ ही उन्होंने विभिन्न जुलुस, यात्रा आदि के लिए पुलिस व उपखण्ड प्रशासन द्वारा की गई तैयारियों की जानकारी ली।   

जिला पुलिस अधीक्षक श्री आदर्श सिधू ने आगामी त्योहारों के मद्देनजर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के संबंध में पुलिस अधिकारियों को अलर्ट मोड में रहने के निर्देश दिए। साथ ही पुलिस को फ्लैग मार्च करने को कहा। 

रैलियों, जुलूस एवं विभिन्न आयोजनों को लेकर मार्गों का भौतिक सत्यापन सुनिश्चित करने का निर्देश दिए गए। बारिश के मौसम को देखते हुए बिजली विभाग के अधिकारियों से भी समन्वय बनाए रखने के निर्देश दिए गए। 

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन राजेश गोयल, अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक ज्येष्ठा मैत्रेयी, सहित पुलिस विभाग के अधिकारी मौजूद रहे। साथ ही जिले के समस्त उपखण्ड अधिकारी वीसी के माध्यम से जुड़े।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा