पीएम मोदी का दो दिवसीय गुजरात दौरा आज से, अटल ब्रिज का करेंगे उद्घाटन

 


 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज से दो दिन के गुजरात दौरे पर रहेंगे. पीएम मोदी अहमदाबाद में साबरमती नदी पर पैदलयात्रियों के लिए अटल पुल का उद्घाटन करेंगे. राज्य सरकार ने बताया है कि अपने दौरे के पहले दिन पीएम मोदी शाम को साबरमती रिवरफ्रंट पर आयोजित खादी उत्सव कार्यक्रम में एक सभा को संबोधित करेंगे. इसके बाद वह अहमदाबाद नगर निगम द्वारा बनाए गए फुट ओवर ब्रिज का उसी स्थान से उद्घाटन करेंगे. इस पुल का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया है.’

क्या हैं अटल पुल की खासियतें?

राज्य सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, आकर्षक डिजाइन और एलईडी रोशनी से सुसज्जित यह पुल लगभग 300 मीटर लंबा और 14 मीटर चौड़ा है और रिवरफ्रंट के पश्चिमी छोर पर फूलों के बाग और पूर्वी छोर पर बन रहे कला और संस्कृति केंद्र को जोड़ता है. पैदल यात्रियों के अलावा, साइकिल चालक भी इस पुल का उपयोग नदी पार करने के लिए कर सकते हैं. इस पुल को तैयार करने में 2,600 मीट्रिक टन स्टील पाइप का उपयोग किया गया है और रेलिंग कांच एवं स्टील से बनाई गई है.

खादी उत्सव को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

बता दें कि आज शाम करीब 5:30 बजे प्रधानमंत्री अहमदाबाद के साबरमती रिवरफ्रंट पर खादी उत्सव को संबोधित करेंगे . प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि मोदी अपनी यात्रा की शुरुआत में 27 अगस्त को अहमदाबाद में साबरमती रिवरफ्रंट पर आयोजित खादी उत्सव समारोह को संबोधित करेंगे और अगले दिन गांधीनगर में भारत में सुजूकी कंपनी के 40 सालों के सफर पर आयजित एक कार्यक्रम में भी शिरकत करेंगे.खादी उत्सव समारोह में सैकड़ों बुनकर चरखा चलाएंगे.

कल कच्छ जिले का दौरा करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री 28 अगस्त को कच्छ जिले का दौरा करेंगे, जहां वह स्मृति वन समेत करीब एक दर्जन परियोजनाओं का उद्घाटन या भूमि पूजन करेंगे.स्मृति वन 26 जनवरी 2001 को गुजरात में आए भूकंप में मारे गये 13,000 से अधिक लोगों को श्रद्धांजलि के रूप में कच्छ जिले के भुज कस्बे के पास भुजियो पहाड़ी पर बनाया गया स्मारक है. पीएम मोदी ने इस स्मारक-सह-संग्रहालय की अवधारणा उस समय की थी, जब वह राज्य के मुख्यमंत्री थे और अब वह इसका प्रधानमंत्री के रूप में उद्घाटन करेंगे.

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग