Sunday, May 23, 2021

मूला हत्याकांड का खुलासा, वारदात स्थल पर मिली फोटो बना सुराग, एक गिरफ्तार, एक की तलाश

 


  भीलवाड़ा (हलचल) । कबारा बड़ा गांव के मूकबधिर मूला कुमावत की हत्या का राजफाश करते हुये मंगरोप पुलिस ने चित्तौडग़ढ़ जिले के गंगरार थाना क्षेत्र के लालसिंह जी का खेड़ा निवासी नैना पुत्र कालू बंजारा  को गिरफ्तार कर लिया, जबकि एक अन्य की तलाश की जा रही है। 
वारदात का खुलासा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गजेंद्र सिंह जौधा ने रविवार को पत्रकार वार्ता में किया। उन्होंने बताया कि मंगरोप थाने के काबरा बड़ा गांव से 30 मार्च को मूला पुत्र नंदा कुमावत लापता हो गया था। वह मूकबधिर था। पुलिस ने मूला की गुमशुदगी दर्ज कर तलाश की, लेकिन उसका कहीं पता नहीं चल पाया। 
इस बीच, 25 अप्रैल को लापता मूला का नरमुंड शहर के भीमगंज थाना इलाके के नेहरु विहार के सूने क्वार्टर में मिला था। कपड़ों व जूतों आदि सामान के आधार पर नरमूंड की पहचान मूला के रूप में उसके भाई नाथू ने की थी। पुलिस ने मामले की जांच की। मामला हत्या का प्रतित होने पर पुलिस ने जांच की गति बढ़ाई। एएसपी का कहना है कि नरमूंड मिलने के दौरान एक आरोपित की फोटो पुलिस को मौके पर मिली थी, जो वारदात के दौरान गिर गई थी। इसी के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच करते हुये आज नैना पुत्र कालू बंजारा  को गिरफ्तार कर लिया। कत्ल लूट के इरादे से करना बताया गया है। 

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...