Sunday, May 23, 2021

कोरोना रोकथाम को लेकर ज़िला कलक्टर ने ली बैठक

 

 चित्तौड़गढ़ । जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने रविवार को कोरोना रोकथाम को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बैठक लेकर समीक्षा की। जिला कलेक्टर ने वैक्सीनेशन, घर-घर सर्वे, कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं सहित विभिन्न विषयों पर पर चर्चा की। 

 

जिला कलेक्टर ने ब्लैक फंगस को लेकर सचेत एवं गंभीर रहने के निर्देश दिए। जिला कलेक्टर ने निर्देशित किया कि अधिकारी ग्रामीण क्षेत्र में लोगों से कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर की पालना कराएं, कोविड केयर सेंटर में मरीजों का समुचित ढंग से उपचार करें, ग्राम स्तरीय कमिटियों को एक्टिवेट रखें एवं अधिक से अधिक एंटीजन टेस्ट करें ताकि प्रारंभिक तौर पर संक्रमित की पहचान की जा सके। उन्होंने आईएलआई लक्षण वाले व्यक्तियों को आवश्यक रूप से मेडिसीन कीट वितरित करने के निर्देश दिए। 

 

ज़िला कलक्टर ने वैक्सीनेशन के वेस्टेज फेक्टर को भी गम्भीरता से लेते हुए इसे नियंत्रित करने के लिए कहा। जिला कलेक्टर ने पीएचसी एवं सीएचसी लेवल के स्टाफ को निरंतर क्रियाशील रखने के निर्देश दिए। बैठक में जिला कलेक्टर ने यह भी कहा कि अधिकारी आपसी समन्वय एवं सामूहिक प्रयासों से कोरोना को रोकने एवं हर मरीज़ को राहत पहुंचाने का प्रयास करें। ज़िला कलक्टर ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर भी अलर्ट रहने के लिए कहा। 

 

बैठक में एडीएम (प्रशासन) रतन कुमार स्वामी, एडीएम (भूमि अवाप्ति) अंबालाल मीणा, सीएमएचओ डॉ रामकेश गुर्जर, आरसीएचओ डॉ हरीश उपाध्याय, पीएमओ डॉ दिनेश वैष्णव, डीपीएम विनायक मेहता, युपीएम निशा आमेटा, ज़िला डाटा प्रबन्धक खुशवंत कुमार हिंडोनिया सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। इसी के साथ हर उपखण्ड स्तर पर एसडीएम, बीडीओ, तहसीलदार एवं बीसीएमओ सहित अन्य अधिकारी वीसी के माध्यम से जुड़े।

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...