राहत: भीलवाड़ा में आज नहीं मिला कोई नया संक्रमित, चिंता: 57 केस अभी भी एक्टिव

 


भीलवाड़ा BHN
भीलवाड़ा में आज कोरोना का स्कोर 0 रहा। नया संक्रमित सामने नहीं आने से चिकित्सा विभाग ने राहत की सांस ली है। दूसरी राहत की खबर यह है कि आज कोरोना के पांच मरीज रिकवर भी हुए हैं वहीं चिंता इस बात की है कि भीलवाड़ा में अभी भी 57 केस एक्टिव हैं। कोरोना को लेकर लोगों की लापरवाही बढ़ती जा रही है। कोई भी कोरोना गाइडलाइन की पालना करता नहीं दिख रहा है।
आरआरटी टीम प्रभारी डॉ. घनश्याम चावला का कहना है कि कोरोना को लेकर लोग लापरवाही बरत रहे हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा बना हुआ है। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान जो बंदिशें प्रशासन की ओर से लगाई गई थीं, वैसी परिस्थितियां फिलहाल नजर नहीं आ रही है लेकिन फिर भी लोगों को अभी से सचेत हो जाना चाहिए ताकि फिर से बंदिश लगाने की नौबत नहीं आए। डॉ. चावला ने कहा कि अभी चिकित्सा विभाग वैक्सीनेशन पर जोर दे रहा है। जिन लोगों ने अभी तक कोरोना की एक भी डोज नहीं ली है तो उन्हें चाहिए कि वे वैक्सीनेशन करवाएं। इसके बाद नियत समय बाद दूसरी डोज लें और जिन लोगों ने दूसरी डोज ले ली है वे दूसरी डोज लगाने के 6 महीने पूरे होने के बाद बूस्टर डोज लगवाएं। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन से इम्युनिटी बढ़ती है। अभी महात्मा गांधी अस्पताल सहित आठ डिस्पेंसरीज पर फर्स्ट, सेकंड सहित बूस्टर डोज निशुल्क लगाई जा रही है।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा