Video राहुल गांधी भीलवाड़ा में कोच से नहीं निकले बाहर, कार्यकर्ताओं ने लगाए जिंदाबाद के नारे, उदयपुर पहुँचे नेता, ये रहेगा कार्यक्रम

 


भीलवाड़ा- उदयपुर

(विजय गढ़वाल)- कांग्रेस के चिंतन शिविर में दिल्ली से उदयपुर जाते समय भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर राहुल गांधी का स्वागत करने पहुंचे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को निराशा ही हाथ लगी है राहुल गांधी तो बाहर नहीं आए लेकिन कार्यकर्ताओं ने जोश दिखाते हुए राहुल गांधी जिंदाबादजिंदाबाद के नारे लगाए। उदयपुर पहुंचने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व अन्य नेताओं ने राहुल गांधी का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया अब से कुछ देर बाद चिंतन मनन शिविर शुरू होगा इसकी तैयारियों का भी कुछ समय पहले जायजा लिया गया सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी भी विशेष विमान से उदयपुर पहुंच चुकी है 

उदयपुर में आज से कांग्रेस के चिंतन शिविर का आयोजन होगा। चिंतन शिविर में अगले तीन दिनों तक कांग्रेस के 430 नेता मंथन करेंगे।चिंतन बैठक की शुरूआत सोनिया गांधी के भाषण से होगी। 15 मई को राहुल गांधी भी नेताओं को संबोधित करेंगे। चिंतन शिविर में भाग लेने के लिएराहुल गांधी ट्रेन से उदयपुर पहुंच हैं। इस दौरान रास्ते में जगह- जगह पर पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा उनका स्वागत किया गया।पार्टी के चिंतन शिविर के लिए उदयपुर जाते समय भीलवाड़ा रेलवे स्टेशन पर कांग्रेस जिला अध्यक्ष रामपाल शर्मा जिला संगठन महा सचिव महेश सोनी नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष कैलाश व्यास हेमराज आचार्य ,जी पी खटीक सहित 50 कार्यकर्ता रेलवे स्टेशन पहुंचे लेकिन राहुल गांधी कोच से बात करते हुए नजर आए, जयराम रमेश फोन पर बात करते हुए बाहर  कार्यकर्ताओं में उत्साह था कि राहुल गांधी से उनकी मुलाकात होगी लेकिन निराशा ही हाथ लगी है।

चितोड़ में स्वागत

 

तीन दिवसीय 'चिंतन शिविर' के लिए कांग्रेस शासित राज्य पहुंचने पर शुक्रवार सुबह राजस्थान के चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन पर राहुल गांधी का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। सांसद मनिकम टैगोर व अन्य कांग्रेस नेताओं द्वारा शेयर किए गए एक वीडियो में राहुल को ट्रेन से नीचे उतरते हुए, हाथ जोड़कर लोगों का अभिवादन करते हुए देखा जा सकता है। 

वीडियो में राहुल गांधी पुलिसकर्मियों और पत्रकारों की भीड़ के बीच एक कांग्रेस कार्यकर्ताओं से माला और उपहार लेते दिख रहे हैं। कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर ने बताया कि यह नजारा सुबह 5 बजे का है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, "सुबह 5 बजे, चित्तौड़गढ़ रेलवे स्टेशन... हमारे कांग्रेस नेता #RahulGandhi का कांग्रेस कार्यकर्ताओं और स्थानीय नेताओं (एसआईसी) द्वारा स्वागत किया जा रहा है।"

 

Udaipur Congress Chintan Shivir Live News Update in Hindi Rahul Gandhi, Sonia Gandhi, Ashok Gehlot

 7:47 बजे चेतक एक्सप्रेस से उदयपुर के सिटी रेलवे स्टेशन पर उतरे। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पायलट व माकन ने राहुल गांधी का फूलों का गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया। राहुल गांधी मुख्यमंत्री के साथ स्टेशन से बाहर आए। राहुल के साथ अन्य नेता भी थे। स्टेशन के बाहर तिरंगा झंडा लेकर खड़े कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। राहुल व अन्य नेता एसी बस में सवार हुए और सीधे होटल अरावली ताज के लिए रवाना हो गए।

रेलवे स्टेशन पर कार्यकर्ताओं को नहीं मिली एंट्री
इससे पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भीड़ सुबह 7 बजे से ही रेलवे स्टेशन पर लग गई थी। कार्यकर्ता और पदाधिकारी किसी तरह से रेलवे स्टेशन के अंदर जाने का जुगाड़ कर रहे थे, लेकिन सुरक्षा व्यवस्था इतनी चाकचौबंद थी कि प्रवेश सिर्फ निर्धारित लोगों को ही दिया गया। उदयपुर पहुंचने से पहले राहुल गांधी का हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं, कार्यकर्ताओं ने पटौदी रेलवे स्टेशन पर भव्य स्वागत किया। गांधी कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं के साथ चेतक एक्सप्रेस से शाम को दिल्ली से रवाना हुए थे और रात आठ बजे वह जब पटौदी रेलवे स्टेशन पर पहुंचे तो वहां हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उनका जमकर स्वागत किया। 

सूत की माला' से राहुल गांधी का स्वागत, जानें हरिवंशराय बच्चन से कनेक्शन 

कांग्रेस चिंतन शिविर: 'सूत की माला' से राहुल गांधी का स्वागत, जानें हरिवंशराय बच्चन से कनेक्शन

 

कांग्रेस के नवचिंतन शिविर में जा रहे राहुल गांधी को पार्टी कार्यकर्ताओं ने सूत की माला भेंट की। राहुल ने माला को स्वीकार किया और बुजुर्ग के चरण स्पर्श कर उनका आशीर्वाद भी लिया। सूत की माला महात्मा गांधी को बहुत पसंद थी, इसमें सादगी दिखाई देती है इसलिए कांग्रेस में भी सूत की माला पहनाने की परंपरा है। चित्तौड़गढ़ से उदयपुर तक सुबह 5 बजे से पौने आठ बजे के बीच कपासन, फतहनगर, मावली, राणाप्रताप नगर में स्टेशनों पर राहुल गांधी के स्वागत के लिए कार्यकर्ताओं की भीड़ जमा रही।

 

सूत की माला का उपयोग महात्मा गांधी के निधन के बाद तब ज्यादा होने लगा जब प्रसिद्ध कवि हरिवंश राय बच्चन ने 'सूत की माला' शीर्षक से ही कविता लिखी थी। यह कविता उन्होंने महात्मा गांधी के निधन के चालीस दिन बाद दिल्ली पहुंचने पर लिखी थी। बापू के घर का स्मरण करते हुए हरिवंश राय बच्चन ने लिखा था
बिरला-घर के बाएँ को है है वह लॉन हरा,
प्रार्थना सभा जिस पर बापू की होती थी,
थी एक ओर छोटी सी वेदिका बनी,
जिस पर थे गहरे
लाल रंग के
फूल चढ़े।

उस हरे लॉन के बीच देख उन फूलों को
ऐसा लगता था जैसे बापू का लोहू
अब भी पृथ्‍वी
के ऊपर
ताज़ा ताज़ा है!

सोनिया -प्रियंका गांधी विमान से आई

 

चिंतन शिविर की सभी बैठकें ताज अरावली में ही होंगी। शिविर में तीन ग्रुप डिस्कशन, 6 विशेष समितियों की बैठक और कांग्रेस कार्यसमिति की अहम बैठक होगी। बैठक में कांग्रेस के दाे मुख्यमंत्री सहित कार्यसमिति के तमाम सदस्य, कांग्रेस कमेटी के सदस्य सहित तमाम बड़े नेता शामिल होंगे। कांग्रेस के ज्यादातर नेता उदयपुर पहुंच चुके हैं। इनमें सोनिया और प्रियंका गांधी समेत शशि थरूर, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला, मल्लिकार्जुन खड़गे आदि नेता शामिल हैं। राहुल गांधी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत 74 नेता ट्रेन से उदयपुर पहुंचे। सोनिया और प्रियंका विशेष विमान से ही शुक्रवार सुबह उदयपुर पहुंचे। 

चिंतन शिविर के लिए ताज अरावली, अनंता रिसोर्ट, ऑरिका लेमन ट्री और रेडिसन ब्लू में नेताओं को ठहरने की व्यवस्था की गई है। राहुल, सोनिया और प्रियंका गांधी समेत ज्यादातर वरिष्ठ नेता ताज अरावली में रुके हैं। होटल्स में 9 राज्यों से शैफ बुलवाकर खास तरह की डिश नेताओं के लिए तैयार करवाई जा रही है।

 

 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट समेत अन्य नेताओं ने तैयारियों का जायजा लिया।

ये रहेगा नव संकल्प चिंतन शिविर का कार्यक्रम
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संबोधन से चिंतन शिविर की शुरुआत होगी। 13 मई की सुबह 11 बजे तक 400 से ज्यादा प्रतिनिधि और नेता चिंतन शिविर पहुंचेंगे। उसके बाद दोपहर 12 बजे चिंतन शिविर शुरू हो जाएगा। दोपहर 2 बजे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी चिंतन शिविर में शिरकत करेंगी। वहां राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत करेंगे। दो बजे सोनिया गांधी के सम्मान में वेलकम स्पीच दी जाएगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी 2 बजकर 10 मिनट पर चिंतन शिविर में आए लोगों को संबोधित करेंगी। इसमें चिंतन शिविर के मकसद और देश के वर्तमान हालातों को लेकर संबोधन देंगी। दोपहर 3 बजे से चिंतन शिविर में ग्रुप संवाद शुरू होगा जो शाम 5 बजे तक चलेगा।

दूसरे दिन भी ग्रुप संवाद होगा
चिंतन शिविर के दूसरे दिन 14 मई को सुबह 10:30 बजे चिंतन शिविर का कार्यक्रम ग्रुप संवाद के साथ शुरू होगा। उसके बाद दोपहर 2:30 बजे तक ग्रुप संवाद चलेगा। रात 8 बजे दूसरे दिन का कार्यक्रम समाप्त होगा। तीसरे दिन सुबह 11 बजे से बैठकें शुरू होंगी। विभिन्न प्रस्ताव चिंतन शिविर में पारित होंगे। दोपहर 1 बजे चिंतन शिविर में आए सभी प्रतिनिधियों के साथ ग्रुप फोटो सेशन होगा। दोपहर 3 बजे राहुल गांधी का भी संबोधन होगा। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा चिंतन शिविर में आए सभी नेताओं का धन्यवाद देंगे। शाम 4 बजकर 15 मिनट पर चिंतन शिविर का समापन हो जाएगा।

ये मुददे रहेगे चर्चा में

कांग्रेस के चिंतन शिविर में तीन मुख्य बिदुंओं पर चर्चा की जाएगी। कांग्रेस नेता सांप्रदायिक ध्रुवीकरण, किसानों के मुद्दे और आगामी चुनाव के लिए पार्टी को मजबूत करने को लेकर चर्चा करेंगे। इसके अलावा केंद्र-राज्य सरकारों के संबंध, उत्तर-पूर्वी राज्यों की स्थिति, जम्मू-कश्मीर का मुद्दा पर भी चर्चा होगी।

 हार पर भी होगा मंथन

बीते विधानसभा चुनावों में हुई हार को लेकर भी चिंतन शिविर में चर्चा होगी। पिछले आठ सालों में हुए चुनावों में पार्टी को कई चुनावों में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में इन चुनावों मिली हार के कारणों पर भी समीक्षा की जाएगी।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर