भीलवाड़ा में फर्जी पुलिसकर्मी व खाद्य निरीक्षक बनकर 12 लाख की ठगी का प्रयास, तीन गिरफ्तार

 


भीलवाड़ा (राजकुमार माली)। मध्यप्रदेश के एक युवक से उसी के मित्र ने डालडा घी मंगवाकर उसे अपने साथियों की मदद से बंधक बना लिया और नकली घी होने की बात कहकर 12 लाख रुपए वसूलने का प्रयास किया । इसमें दो लोग नकली पुलिसकर्मी और खाद्य निरीक्षक भी बने। युवक के भाई ने एसपी से शिकायत की तो मामले का भण्डाफोड़ हुआ और सुभाषनगर पुलिस ने इस मामले में एक प्रोपर्टी कारोबारी एक वाहनों की खरीद फरोख्त करने वाले युवक सहित तीन जनों को गिरफ्तार किया है। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के नामली तहसील के गुणावद ग्राम निवासी दुर्गेश उर्फ सोनू जाट को उन्हीं के गांव में पहले आईसक्रीम की लारी लगाने वाले गंगापुर थानान्तर्गत झड़ोल निवासी कुणाल बड़वा से दोस्ती हो गई थी। उसी ने 17 दिसम्बर को फोन किया कि सांवरिया जी के तुम आ रहे हो तो 7 पीपे डालडा घी के लेते आना, मैं तुम्हें पैसा नकद दिलवा दूंगा। यहां घी महंगा है तुम्हारे यहां सस्ता है। इस पर 18 दिसम्बर को धानमण्डी रतलाम से सोनू ने 7 पीपे डालडा घी के 15 हजार 400 रुपए में खरीदे और एक दोस्त राजू टांक के साथ टेम्पो में लेकर सांवरा जी के लिए रवाना हुए। कुणाल को निम्बाहेड़ा घी लेने जाना था लेकिन वह वहां नहीं पहुंचा और भीलवाड़ा बुला लिया। यहां अजमेर चौराहे पर कुणाल मिला और दोनों को उसके किसी मिलने वाले के घर ले गया। रात वहीं रूके। सुबह कुणाल से सोनू ने कहा कि टेम्पो से घी उतरवा लो और घी के पीपे ले लो। कुणाल बहाने बनाने लगा और कुछ देर बाद दोनों को सुभाष नगर स्थित महाकाल प्रोपर्टी नामक एक दुकान पर ले गया जहां उन्हें बैठाकर चला गया। कुछ देर बाद प्रोपर्टी व्यवसायी राहुल सिंह सिसोदिया वहां आया और पूछा कि क्या घी तुम लेकर आये हो और उन दोनों को अन्दर बिठाया। आधे घण्टे बाद राहुल ने कहा घी नकली है। खाद्य विभाग द्वारा जांच करवाई गई है। घी नकली है अगर यहां से जाना है तो 12 लाख रुपए देने पड़ेंगे। 
सोनू के भाई आकाश जाट ने बताया कि उसके भाई कैछ करने की जानकारी मिली और पुलिसकर्मी बनकर धमकाने और 12 लाख रुपए मांगने के साथ ही कहा कि अगर नहीं दिये तो दस साल की सजा हो जाएगी। इस बात की उसे जानकारी मिली तो आकाश जाट ने पुलिस अधीक्षक को इस बारे में जानकारी दी। इस बीच सोनू भी उनके चंगुल से निकलकर सुभाषनगर थाने पहुंच गया। यही नहीं कुणाल ने सोनू से कहा कि उसे बचना है तो 10 लाख रुपए तक जुगाड़ करो। फर्जी पुलिसकर्मी और खाद्य निरीक्षक बनकर अवैध वसूली करने के मामले में सुभाषनगर थाना पुलिस दुर्गेश उर्फ सोनू जाट की रिपोर्ट पर धारा 342, 365, 384 और 120बी में मामला दर्ज कर जांच अर्जुनलाल एएसआई के सुपुर्द की। 
उप पुलिस अधीक्षक रामचन्द्र ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किये गए आरोपियों में झड़ोल निवासी कुणाल बड़वा, महाकाल प्रोपर्टी का कारोबारी राहुल सिंह सिसोदिया और आर.के.कॉलोनी निवासी शैलेन्द्र सिंह शामिल है। सुभाषनगर थाना प्रभारी नन्दलाल रिणवा ने बताया कि तीनों आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया जहां से उन्हे जेल भेज दिया गया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना