तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आने से 6 माह के पैंथर की मौत

 

राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आने से एक पैंथर के बच्चे की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

सवाई माधोपुर जिले में तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आने से एक पैंथर के बच्चे की मौत हो गई। सूचना पर वनपाल शकुंतला सैनी मौके पर पहुंचीं और मामले की जांच की। वन विभाग ने पैंथर के बच्चे को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। यह घटना चौथा का बरवाड़ा पाउडर फाटक के पास हुई, पैंथर के बच्चे की उम्र छह महीने बताई जा रही है।


वन विभाग के अधिकारियों का कहना है, पशु चिकित्सक से पैंथर का पोस्टमार्टम के बाद उसका अंतिम संस्कार करवाया जाएगा। वनपाल शकुंतला सैनी ने बताया, सुबह रेलवे लाइन पर पेट्रोलिंग कर रहे एक कर्मचारी ने पैंथर जैसा एक जानवर रेलवे पटरी पर पड़े होने की सूचना दी थी, जिसे लेकर वह वनकर्मियों के साथ मौके पर पहुंची। जहां उन्हें मृत पैंथर का शव मिला।

बड़ी संख्या में पैंथर पाए जाते हैं...
वन विभाग का कहना है, इस इलाके में बड़ी संख्या में पैंथर पाए जाते हैं। साथ ही उन्हें अंदेशा है कि पैंथर की मां भी कहीं आसपास होगी। पटरी के पास एक मरी हुई गाय पड़ी थी, जिससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि पैंथेर का बच्चा गाय को खाने आया होगा, जिसकी वजह से ट्रेन की चपेट में आ गया।  

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा