मेनका गांधी ने भीलवाड़ा में श्वानों के बधियाकरण में बताई खामियां, बन्द कराने को कहा

 


भीलवाड़ा (वि‍जय/प्रहलाद)। भीलवाड़ा शहर में अब तक 5 हजार से ज्यादा श्वानों का बधियाकरण किया जा चुका है और यह कार्य जारी है। पीपुल्स फॉर एनीमल्य की राष्ट्रीय अध्यक्ष मेनका गांधी ने भीलवाड़ा में किये जा रहे इस कार्य पर अंगुली उठाते हुए इसे बन्द कराने की बात कही है लेकिन प्रदेश संयोजक ने इस काम को संतोषजनक माना है।
पीपुल्स फॉर एनीमल्स की राष्ट्रीय अध्यक्ष मेनका गांधी ने प्रदेश संयोजक बाबूलाल जाजू को भीलवाड़ा में चल रहे श्वानों के बधियाकरण में कमियां पाई जाने को देखते हुए इसे बन्द कराने को कहा है। मेनका गांधी के निर्देश पर जाजू ने जिलाध्यक्ष सुरेश जागेटिया के साथ श्वान नसबंदी कार्यक्रम का जायजा लिया है। जायजे के बाद जाजू ने कहा कि कार्यक्रम सही ढंग से चल रहा है। लेकिन उन्होंने नगर परिषद से इस कार्यक्रम में पारदर्शिता रखने के साथ ही नसबंदी कितनी हो रही है इसकी देखरेख के लिए एक कर्मचारी को नियुक्त करने की मांग की है। जबकि संतुलन जीव कल्याण समिति के द्वारा चलाए जा रहे इस कार्यक्रम के डॉ. नवेसरा का कहना है कि प्रतिदिन 70 से अधिक श्वानों की नसबंदी की जा रही है। इसमें किसी तरह की कोई खामी नहीं है। जिस क्षेत्र से श्वानों को पकड़ा जाता है उन्हें बधियाकरण के बाद वहीं छोड़ा जाता है। बधियाकरण के लिए लाये जाने वाले श्वानों को दो वक्त का खाना दिया जाता है। एक श्वान के बधियाकरण पर 1090 रुपए संस्था को मिलते है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार