सलमान खुर्शीद ने राहुल गांधी को बताया भगवान राम कांग्रेसियों की तुलना भरत से की भाजपा ने साधा निशाना

 


राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 जनवरी को यूपी के गाजियाबाद से फिर शुरू होगी. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद इसी बारे में मीडिया से बात कर रहे थे कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने ऐसा बयान दिया है, जिससे विवाद हो गया है. खुर्शीद ने राहुल गांधी  की तुलना भगवान राम से की है और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भरत बताया है. न्यूज एजेंसी के मुताबिक खुर्शीद ने कहा- भगवान राम की खड़ाऊ बहुत दूर तक जाती है. कभी-कभी जब राम जी नहीं पहुंच पाते तो भरत खड़ाऊ लेकर जगह-जगह जाते हैं. ऐसे ही हम यूपी में खड़ाऊ लेकर आए हैं. अब खड़ाऊ आ गई है तो राम जी भी आएंगे.

खुर्शीद ने कहा- "राहुल गांधी एक योगी की तपस्या की तरह अपने मिशन पर फोकस कर रहे हैं. राहुल गांधी एक सुपर ह्यूमन हैं जबकि हम ठंड में ठिठुर रहे हैं और जैकेट पहन रहे हैं, वह (अपनी भारत जोड़ो यात्रा के लिए) हाफ टी-शर्ट में बाहर जा रहे हैं. वह एक योगी की तरह हैं, जो अपनी तपस्या पूरे ध्‍यान से कर रहे हैं."

भाजपा नेताओं ने बोला खुर्शीद पर हमला

खुर्शीद के इस बयान पर भाजपाइयों ने ऐतराज जताया है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्‍ता शहजाद पूनावाला ने खुर्शीद की टिप्पणी को "हिंदू आस्था का अपमान" बताया. शहजाद ने अपने ट्विटर पर ट्वीट किया- सलमान खुर्शीद ने राहुल गांधी की तुलना भगवान श्री राम से की, और खुद की तुलना भरत से !! यह चौंका देने वाला है! क्या वह किसी की तुलना दूसरे धर्मों के भगवान से करने की जुर्रत करेंगे?
शहजाद ने कहा- राम जी के अस्तित्व को नकार कर राम मंदिर के काम में रुकावट डालने वाले अब हिन्दू आस्था का अपमान कर रहे हैं! क्या जनेऊधारी राहुल इससे सहमत हैं?'

भारत जोड़ो यात्रा 9 दिन के ब्रेक पर 

बता दें कि सलमान खुर्शीद बीते सोमवार को यूपी के अमरोहा में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर मीडिया से बात कर रहे थे. उन्‍होंने कहा कि हमारी भारत जोड़ो यात्रा 3 जनवरी को यूपी के गाजियाबाद से फिर शुरू होगी. फिलहाल यह यात्रा 9 दिन के ब्रेक पर दिल्ली में है.

'कश्‍मीर तक जाएगी ये यात्रा'

कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी की अगुवाई में भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं. राहुल गांधी ने इसकी शुरुआत तमिलनाडु से की थी. वह हजारों किलोमीटर पैदल चले हैं. हाल ही में उन्‍होंने कहा था, हमें जनता से अपार समर्थन मिल रहा है. हम यह यात्रा जम्मू और कश्मीर तक कर रहे हैं.'

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा