मजदूर नेता स्व. व्यास को अर्पित किये श्रद्धासुमन

 


भीलवाड़ा स्वतंत्रता सैनानी, मजदूर हितों के रक्षक स्व. रमेशचन्द्र जी व्यास की पुण्यतिथि के अवसर पर उनकी कर्मभूमि गांधी मजदूर सेवालय, भीलवाड़ा में सैकड़ों कांग्रेसजनों एवं इंटक से सम्बद्ध श्रमिक संगठनों के पदाधिकारियों द्वारा प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित किये गये।
 इस अवसर पर संस्था अध्यक्ष कैलाश व्यास, बार कॉन्सिल ऑफ इण्डिया चैयरमेन सुरेश चन्द्र श्रीमाली, जिला इन्टक अध्यक्ष दीपक व्यास, महामंत्री कान सिंह चुण्डावत, पूर्व न्यास अध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी, रामगोपाल पुरोहित, वरिष्ठ उपाध्यक्ष कन्हैयालाल शर्मा, पुरूषोतम शर्मा, अविचल व्यास, रफीक शेक, पीरू भाई मन्सूरी, भंवर गर्ग, अनिल राठी, राजकुमार प्रजापत, आगुंचा माईन्स महामंत्री महेन्द्र सोनी, महेन्द्र सिंह, अजय कुमार, शिवनाथ सिंह, पन्नालाल जाट, बी.पी.एल. श्रमिक संघ से काशीराम गाडरी, देवीलाल गाडरी, मनोहर, संजय, बी.एस.एल. महामंत्री छोटू सिंह पुरावत, गोरू खान, वस्टेड भैरूसिंह टांक, कालूलाल बलाई, ज्ञानमल खटीक, राजकुमार जोशी, शंकर खोईवाल, कृषि मण्डी जहीरूद्दीन, सत्यनारायण नागर, गोरू खान, रामराज मीणा, भंवर लाल पारीक, प्रकाश शर्मा, नसरूदीन, गौरव व्यास, सुरेश पारीक, राहुल व्यास, गोपाल व्यास, कालूराम पारीक, मदन सिंह टांक, नरेश काबरा, करण वीर व्यास, भंवर जोशी, मेवाराम खोईवाल, मुकेश खोईवाल, नन्दलाल गाडरी, भैरूलाल पारीक, सत्यनारायण सेन, हरि प्रकाश जोशी एवं परिवारजन सहित सैकड़ांे श्रमिक साथी उपस्थित थे।
 व्यास की कर्मभूमि को उपस्थित जनों ने ’स्वर्गीय व्यास अमर रहे’ एवं ’मेवाड़ी शेर जिन्दाबाद’ के नारों से गुंजायमान कर दिया।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार