श्रद्धालुओं को अयोध्या ले जा रही बस डिवाइडर से टकराई, 28 लोग घायल

 

वाराणसी से अयोध्या रामलला के दर्शन के लिए जा रही श्रद्धालुओं से भरी एक बस डिवाइडर से टकराकर पलट गई। हादसे में 28 श्रद्धालु घायल हो गए। पुलिस ने एंबुलेंस की मदद से सभी को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां दो श्रद्धालुओं की हालत नाजुक होने पर चिकित्सक ने ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया। हादसे की सूचना मिलते ही डीएम जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों का हाल जाना।

महाराष्ट्र के पुणे जिले के भोसरी थाना क्षेत्र के शास्त्रीनगर के रहने वाले श्रद्धालु तीर्थयात्रा पर निकले हैं। वाराणसी में काशी विश्वनाथ धाम का दर्शन करने के बाद वे मंगलवार की देर शाम अयोध्या के लिए बस पर बैठकर निकले थे। बस बुधवार की भोर में सुल्तानपुर जिले के गोसाईंगंज थाना क्षेत्र के टाटिया नगर के पास पहुंची थी कि अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़कर पलट गई। तेज आवाज सुनकर टाटिया नगर पुलिस चौकी पर ड्यूटी पर मौजूद पुलिस कर्मी भागकर मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने एंबुलेंस की मदद से सभी को जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां पर चिकित्सकों ने देतोबा काशीनाथ (70), विकास पंडरनाथ पांडेय (43) निवासी शास्त्रीनगर थाना भोसरी जिला पुणे महाराष्ट्र को ट्रॉमा सेंटर लखनऊ रेफर कर दिया। हादसे की सूचना मिलते ही जिलाधिकारी रवीश गुप्ता, सीएमओ डॉ. डीके त्रिपाठी, सीएमएस डॉ. एससी कौशल अस्पताल पहुंच गए।

डीएम ने अस्पताल में भर्ती घायल श्रद्धालुओं को मिलने वाली चिकित्सकीय सेवा के बारे में सीएमएस से जानकारी ली। डीएम को घायल श्रद्धालु विश्वास ने बताया कि चालक लापरवाही से बस चला रहा था। सभी श्रद्धालु वाराणसी से छह बसों में सवार होकर अयोध्या रामलला के दर्शन के लिए निकले थे। जो बस हादसे का शिकार हुई, वह छठी बस थी। शेष पांच बसें अयोध्या के लिए आगे निकल चुकी थी।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा