डांग के हनुमान मंदिर के महन्त सरजूदास को गंगापुर न्यायालय में किया पेश


2 जनवरी तक न्यायिक अभिरक्षा में भेजा

गंगापुर (सुरेश शर्मा) डांग के हनुमान मंदिर के महन्त सरजूदास महाराज को पुलिस ने गंगापुर न्यायालय में पेश किया। न्यायिक मजिस्ट्रेट ने आरोपी महंत को 2 जनवरी तक न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश जारी किए।

मांडल जांच अधिकारी पुलिस उप अधीक्षक सुरेंद्र कुमार कुमावत ने बताया कि घोड़ास गांव के प्रसिद्ध डांग के हनुमान मंदिर के महंत सरजूदास महाराज को मांडल पुलिस ने बुधवार सुबह नाबालिग के साथ दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार किया। शीतकालीन अवकाश के चलते  गंगापुर न्यायालय को दी गई न्यायिक प्रकरण निस्तारण की विशेष जिम्मेदारी के चलते आरोपी महंत सरजू दास को गंगापुर न्यायालय में न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। महंत सरजू दास के वकील ने गंगापुर न्यायाधीश के समक्ष पुलिस के पास साक्ष्य नहीं होने पर जमानत देने की अर्जी लगाई थी। गंगापुर न्यायिक मजिस्ट्रेट रविंद्र यादव ने 2 जनवरी तक महंत को न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के दिए आदेश। न्यायालय  में कड़ी सुरक्षा की गई और पुलिस के आला अधिकारी भी न्यायालय परिसर में डेरा डाले रहे।

डांग के हनुमान मंदिर के महंत सरजूदास महाराज को पोक्सो एक्ट के तहत बुधवार को हनुमान वाटिका से गिरफ्तार किया गया। महाराज को गिरफ्तार करने से पहले वाटिका के पास तीन अलग-अलग गाडिय़ां खड़ी हुई थी। इनमें से एक गाड़ी में सरजूदास महाराज को बिठाकर पुलिस अपने साथ ले गई। वही मांडल थाने पर एहतियात के तौर पर विभिन्न थानों के जाप्ते के साथ ही रिजर्व पुलिस बल तैनात किया गया। 

घोड़ास डांग के हनुमान के महंत सरजूदास पर एक नाबालिग बालिका के साथ यौन शोषण का मामला दर्ज करवाया गया था। जिसके चलते मांडल पुलिस महंत को गिरफ्तार किया है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना