मुआवजे की मांग को लेकर शव को फैक्ट्री के बाहर रखा, 7 लाख में हुआ समझौता

 


भीलवाड़ा (प्रहलाद तेली)। रिको विस्तार स्थित एक सिंथेटिक्स फैक्ट्री में डेढ माह पहले गिरकर घायल हुए श्रमिक की आज मौत हो जाने पर परिजन शव लेकर फैक्ट्री पहुंचे और मुआवजे की मांग की। बाद में 7 लाख रुपए पर सहमति बनने पर शव उठाया गया।
प्रतापनगर थाना प्रभारी राजेन्द्र गोदारा ने बताया कि डेढ माह पहले औद्योगिक क्षेत्र रिको स्थित सुख सागर सिंथेटिक्स में कार्यरत श्रमिक मनोज कुमार गिरने से घायल हो गया था। उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। मनोज की पत्नी सुनिता देवी ने बताया कि इसके बाद फैक्ट्री का कोई भी व्यक्ति अस्पताल तक नहीं आया। कम्पनी से बात करनी चाही लेकिन किसी ने कोई बात नहीं की। आज उपचार के दौरान मनोज की मृत्यु हो गई। पत्नी का कहना है कि 17-18 सालों से वे इसी फैक्ट्री में काम कर रहे थे और 28 नवम्बर 2022 को रात्रि में 11 बजे गिरने से उनके सिर में चोट लगी। श्रमिक मनोज की मौत के बाद परिजन और कुछ श्रमिक अर्थी को लेकर श्रमिक के शव को फैक्ट्री ले गये और वहां रखकर मुआवजे की मांग की। यह जानकारी मिलने पर प्रतापनगर थाने से पुलिस जाब्ता और प्रभारी राजेन्द्र गोदारा मौके पर पहुंचे। फैक्ट्री मालिक और मृतक के परिजनों के साथ चार पांच घंटे की बातचीत के बाद उनमें समझौता हो गया। एक श्रमिक नेता ने बताया कि फैक्ट्री मालिक द्वारा 7 लाख रुपए मुआवजा और अन्य मिलने वाले लाभ देने पर समझौता हुआ। जिसके बाद ही वहां से शव उठाया गया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा