मुआवजे की मांग को लेकर शव को फैक्ट्री के बाहर रखा, 7 लाख में हुआ समझौता

 


भीलवाड़ा (प्रहलाद तेली)। रिको विस्तार स्थित एक सिंथेटिक्स फैक्ट्री में डेढ माह पहले गिरकर घायल हुए श्रमिक की आज मौत हो जाने पर परिजन शव लेकर फैक्ट्री पहुंचे और मुआवजे की मांग की। बाद में 7 लाख रुपए पर सहमति बनने पर शव उठाया गया।
प्रतापनगर थाना प्रभारी राजेन्द्र गोदारा ने बताया कि डेढ माह पहले औद्योगिक क्षेत्र रिको स्थित सुख सागर सिंथेटिक्स में कार्यरत श्रमिक मनोज कुमार गिरने से घायल हो गया था। उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। मनोज की पत्नी सुनिता देवी ने बताया कि इसके बाद फैक्ट्री का कोई भी व्यक्ति अस्पताल तक नहीं आया। कम्पनी से बात करनी चाही लेकिन किसी ने कोई बात नहीं की। आज उपचार के दौरान मनोज की मृत्यु हो गई। पत्नी का कहना है कि 17-18 सालों से वे इसी फैक्ट्री में काम कर रहे थे और 28 नवम्बर 2022 को रात्रि में 11 बजे गिरने से उनके सिर में चोट लगी। श्रमिक मनोज की मौत के बाद परिजन और कुछ श्रमिक अर्थी को लेकर श्रमिक के शव को फैक्ट्री ले गये और वहां रखकर मुआवजे की मांग की। यह जानकारी मिलने पर प्रतापनगर थाने से पुलिस जाब्ता और प्रभारी राजेन्द्र गोदारा मौके पर पहुंचे। फैक्ट्री मालिक और मृतक के परिजनों के साथ चार पांच घंटे की बातचीत के बाद उनमें समझौता हो गया। एक श्रमिक नेता ने बताया कि फैक्ट्री मालिक द्वारा 7 लाख रुपए मुआवजा और अन्य मिलने वाले लाभ देने पर समझौता हुआ। जिसके बाद ही वहां से शव उठाया गया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत