टेंपो में तस्करी का खुलासा- लाखों रुपए की अंग्रेजी शराब के साथ उदयपुर का तस्कर गिरफ्तार

 


भीलवाड़ा प्रेम कुमार गढ़वाल। लगातार बड़े वाहन पकड़े जाने को लेकर तस्करों ने अब तस्करी का तरीका बदल दिया है। शराब तस्कर अब ट्रकों की बजाए लोडिंग टेंपो जैसे वाहनों का तस्करी में इस्तेमाल करने लगे हैं ऐसा ही एक मामला पुर थाना पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस ने गुडगांव से गुजरात ले जाई जा रही लाखों रुपए की अंग्रेजी शराब से भरा लोडिंग टेंपो जप्त कर उदयपुर के तस्कर को गिरफ्तार कर लिया बता दें कि यह शराब पॉलिथीन की ओट में टेंपो में बनाए गए गुप्त चेंबर में भरकर ले जाई जा रही थी।

पुर थाना प्रभारी शिवराज गुर्जर ने बीएचएन को बताया कि मुखबिर से प्राप्त सूचना पर सब इंस्पेक्टर राजेंद्र कुमार ने पुर ओवर ब्रिज के नीचे पुलिस जाब्ते के साथ नाकाबंदी की। पुलिस ने वाहनों की चेकिंग के दौरान मुखबिर के बताए हुलिए के एक संदिग्ध अशोक लेलैंड टेंपो को रोका। पुलिस ने टेंपो कोड चेक किया तो डाले में पॉलीथिन भरी हुई थी। टेंपो उस वक्त शक के दायरे में आ गया जब पुलिस को पॉलिथीन का वजन कम होने के बावजूद टेंपो लोडेड प्रतीत हुआ था। ऐसे में पुलिस ने पॉलीथिन खाली करवा कर बारीकी से जांच की तो डाले में ही गुप्त चेंबर बना हुआ मिला। चेंबर की जांच करने पर उसमें अंग्रेजी शराब के तीन अलग अलग ब्रांड के 39 कार्टन मिले जिनमें 18 रेड लेबल, 12 बेलेनटाइन और 9 पेटी वोदका शामिल है। पुलिस ने लोडिंग टेंपो चालक कालिया का मथारा, उदयपुर निवासी मांगीलाल पुत्र देवा पटेल शराब परिवहन संबंधित दस्तावेज मांगे जो उसके पास नहीं मिले। पुलिस ने इसे अवैध शराब से जुड़ा मामला मानते हुए शराब की बेटियों सहित टेंपो को जप्त कर मांगीलाल पटेल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर अग्रिम जांच हमीरगढ़ थाना प्रभारी श्रीमती पुष्पा कासौटिया के जिम्मे की है। अब तक की प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी मांगीलाल पटेल ने उक्त शराब गुड़गांव से भरकर गुजरात ले जाना कबूल किया है। उधर पुलिस ने जब्त शराब की कीमत 7.50 लाख रुपए बताइ है। इस कार्रवाई को अंजाम देने वाली टीम में थानेदार राजेंद्र कुमार के साथ हेड कांस्टेबल यसवीर सिंह, कॉन्स्टेबल दिनेश, बलवीर आदि शामिल थे।

लेबल से गायब सेल फोर

 पुर थाना पुलिस द्वारा जप्त की गई बोतलों की जांच की तो एक बार की पुलिस भी सकते में आ गई। शराब की बोतलों पर लगे लेवल को देखकर पुलिस यह पता नहीं लगा पाई की यह शराब सेल फॉर राजस्थान है या फिर सेल् फोर हरियाणा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार