धर्मकांटे पर कत्ल कर भागा यूपी का युवक गिरफ्तार, पुलिस ने किया खुलासा


 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। जिले के मांडल थाना इलाके में धर्मकांटे पर युवक मूलसिंह की हत्या का खुलासा करते हुये पुलिस ने उत्तरप्रदेश के मैनपुरी जिले के हिमायुपर निवासी उचन सिंह उर्फ  उदल सिंह उर्फ  सत्यम उर्फ  छोटू पुत्र  कीरत सिंह चौहान को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित ने पूछताछ में कबूल किया कि मजदूरी पर नही लगवाने की बात को लेकर मूल सिंह के साथ धर्मकांटा के कमरे में गाली गलौच झगड़ा हुआ था। इस दौरान कमरे के बाहर से भारी पत्थर लाकर धर्म कांटे के कमरे में पलंग पर लेटे मूल सिहं के सिर पर पत्थर की चोट मार हत्या कर दी ओर लालच में आकर मृतक की मोटर साईकिल, मोबाईल,पर्स व रुपये लेकर फरार हो गया था। 
मांडल पुलिस ने बीएचएन को बताया कि  अजमेर जिले के जवाजा थाने के सूरजपुरा निवासी नारायण सिंह पुत्र मूल सिंह रावत  ने  थाने में रिपोर्ट दी थी कि उसे  8 जनवरी  23 को सुबह सुचना मिली कि भाई मूल सिंह पुत्र हजारी सिंह रावत  की किसी ने मोईक्रो धर्मकांटा धुवाला पर हत्या कर दी है। यहां पहुंचने पर देवेन्द्र सिंह राजपूत निवासी घुंवाला ने बताया कि कल शाम करीब 4 बजे के लगभग मूल सिंह रावत व उसका साथी मजदूर सत्यम चौहान मोटर साईकिल से माईक्रो धर्म कांटा   पर आये थे। वह  8:00 बजे तक इनके साथ रहा, फिर घर पर चला गया। दूसरे दिन सुबह 8 बजे धर्मकांटा पर पहुंचा तो धर्मकांटा में मूल सिंह को मृत पाया । सत्यम   सिंह वहां से फरार मिला ।  मूल सिंह की मोटरसाईकिल व मोबाईल मौके पर नहीं मिले। मूल सिंह की लाश को  देखा तो सिर के बाये तरफ  कनपटी के पास चोट का निशान होकर नाक मुंह, कान से खून निकले हुये थे। रात को  मूल सिंह रावत के सिर पर बड़े पत्थर की चोट मार हत्या कर उसकी मोटर साईकिल सी डी डिलक्स मोबाईल फोन आदि लेकर सत्यम फरार हो गया।इस वारदात के बाद पुलिस की टीम गठित की गई। टीम ने पड़ताल शुरु की तो पता चला कि  मूल सिंह रावत फैक्ट्री में मिस्त्री का काम करता है । उधन सिंह उर्फ  उदल सिंह उर्फ  सत्यम उर्फ छोटू  सिंह चौहान जो पहले मूल सिंह रावत के साथ मजदूरी करता था, कुछ समय पहले अपने गांव गया हुआ था जिसने मूल सिंह रावत से मजदूरी लगवाने के लिए बात की ।  02 जनवरी को  को मूल सिंह के कहे अनुसार वह मूल सिंह के पास आ गया। सात जनवरी को  शाम को 4.00 बजे के लगभग माईको धर्मकांटा घुंबाला आये, जहां पर खाना खाने के बाद रात को धर्मकांटा के कमरे में रूके । उधम सिंह उर्फ  उदल सिंह उर्फ सत्यम चौहान ने मजदूरी नहीं लगाने की बात को लेकर मूल सिंह रावत के साथ गाली गलौच कर झगडा किया व पलंग पर सोते हुये के सिर पर भारी पत्थर की चोट मार कर हत्या कर मोटर साईकिल मोबाइल पर लेकर के फरार हो गया। पुलिस टीम ने अथक प्रयास के बाद आरोपित उधन सिंह को डिटेन कर पूछताछ की। आरोपित ने सात जनवरी की रात को हत्या करना कबूल कर लिया। इसके बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। उससे तफ्तीश की जा रही है।  आरोपित को गिरफ्तार करने वाली टीम में थाना प्रभारी के साथ एएसआई पृथ्वीराज, आशीष, अनिल कुमार, महेंद्र सिंह, राकेश, घेवर राम, रमेश, लक्ष्मीनारायण शामिल थे।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती