मर्डर के बाद अशांति, बाजार बंद: हिंदू संगठनों ने दिया धरना, नहीं हो पाया शव का पीएम, मुआवजे व सरकारी नौकरी की मांग

भीलवाड़ा संपत माली/पिंकू खोतानी
भीलवाड़ा के शास्त्रीनगर में मंगलवार रात युवक का मर्डर होने के बाद से बिगड़ा माहौल अब तक शांत नहीं हो पाया है। हिंदू संगठनों की ओर से सूचना केंद्र चौराहे पर धरना दिया जा रहा है। इसे लेकर पुलिस और हिंदू संगठनों के प्रतिनिधियों के बीच थोड़ी मिसअंडरस्टेंडिंग भी हुई लेकिन बाद में हिंदू संगठनों ने टेंट लगा दिया।
इससे पूर्व हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने सुबह से ही बाजार बंद कराना शुरू कर दिया था। दुपहिया वाहनों पर सवार हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने बाजार बंद कराया। मुख्य बाजार सहित गली-गली में खुली दुकानों को भी हिंदू संगठनों ने बंद कराया और लोगों से बंद में सहयोग की अपील की। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा और आला अधिकारी भी मौके पर मौजूद रहे।
शाम की सब्जी मंडी, गुलमंडी और अन्य स्थानों पर दुकानें बंद कराने के दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। इस दौरान हिंदू संगठनों के प्रतिनिधियों और पुलिस अधिकारियों के बीच वार्ता भी हुई लेकिन उसका कोई निष्कर्ष नहीं निकला।
अब तक नहीं हुआ पीएम
मंगलवार रात आदर्श तापड़िया की चाकू लगने से मौत होने के बाद माहौल बिगड़ने की आशंका को देखते हुए रात को ही घटनास्थल सहित महात्मा गांधी अस्पताल में भारी पुलिस बंदोबस्त कर दिया गया था। सुबह भी मोर्चरी के बाहर पुलिस तैनात रही। परिजनों ने 50 लाख के मुआवजे सहित सरकारी नौकरी की मांग की है। साथ ही कहा है कि जब तक मांगें पूरी नहीं होती,ख्तब तक वे शव नहीं उठाएंगे।
चप्पे-चप्पे पर पुलिस
शहर में माहौल बिगड़ने की आशंका को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। पुलिस हर मूवमेंट पर नजर रखे हैं। जिला कलेक्टर और एसपी ने भी पुलिस प्रशासन के अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें अलर्ट रहने को कहा है। पुलिस प्रशासन लगातार सीएमओ से संपर्क में है। जिला कलेक्टर ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि हर घटना को सांप्रदायिकता का रंग देना ठीक नहीं है। घटना की जांच की जा रही है।
सूचना केंद्र पर धरने पर बैठे हिंदू संगठन
मर्डर के विरोध में हिंदू संगठनों की ओर से सूचना केंद्र चौराहे पर धरना दिया जा रहा है। इससे पूर्व टेंट लगाने को लेकर हिंदू संगठनों और पुलिस के बीच थोड़ी मिसअंडरस्टेंडिंग भी हुई और एक बार तो पुलिस फोर्स टेंट हटाने के लिए भी पहुंच गई लेकिन बाद में लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस पीछे हट गई। हिंदू संगठनों ने टेंट लगाकर धरना शुरू कर दिया है।
बेबस लोग, देखते रहे तमाशा
रोज मजदूरी कर दो वक्त की रोटी खाने वाले लोग भी भीलवाड़ा के माहौल को देखकर हैरान-परेशान रहे। कुछ मजदूरों ने बताया कि वे रोज की तरह आसपास के गांवों से मजदूरी करने आए हैं। उन्हें पता नहीं था कि भीलवाड़ा में क्या हो रहा है। अब ऐसे में आज वे परिवार को क्या खिलाएंगे, इसी चिंता में चिंतित बैठे नजर आए।
छतों पर चढ़े लोग
हिंदू संगठनों की ओर से भीलवाड़ा बंद कराने के दौरान मोहल्लों में रहने वाले लोग छतों पर खड़े होकर देख रहे थे। इसी दौरान लोगों की आंखों में दहशत दिखी। इस दौरान स्कूल से घर लौट रहे बच्चे भी एकबारगी सहम गए।
बाहर से भी बुलाया जाब्ता
पुलिस ने एहतियात के तौर पर भीलवाड़ा के अलावा अन्य जिलों से भी जाब्ता बुलाया है ताकि किसी भी अप्रिय घटना को रोका जा सके।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर