श्रीकृष्‍ण जन्‍मस्‍थान विवाद की सुनवाई टली: वकील महेंद्र प्रताप सिंह बोले- ईदगाह जैसी कुछ चीज नहीं, दीवारों पर शंख, चक्र, कमल, शेषनाग के चिन्ह

 


मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि मंदिर से सटी शाही मस्जिद को हटाने के मामले को लेकर मंगलवार (10 मई, 2022) को जिला अदालत में सुनवाई होनी थी लेकिन एक वकील के निधन के कारण सुनवाई को टाल दिया गया। अब इस मामले में 1 जुलाई को सुनवाई होगी। इस मामले में हिंदू पक्ष की तरफ के वकील महेंद्र प्रताप सिंह ने दावा करते हुए कहा कि वहां कोई ईदगाह या शाही मस्जिद नहीं है बल्कि वह एक मूल गर्भ गृह है।

महेंद्र प्रताप सिंह ने कहा, “श्रीकृष्‍ण जन्‍मभूमि प्रकरण में सोमवार (9 मई, 2022) को शपथ पत्र के साथ हमने कोर्ट में एक प्रार्थना पत्र दिया था। इसमें बनारस कोर्ट की एक कॉपी दाखिल की थी। हमारा कहना है कि श्रीकृष्ण जन्मभूमि के बगल में मूल गर्भ गृह बना हुआ है, इसे मस्जिद कहते हैं, जबकि वास्तव में ये एक मंदिर है। भगवान वहीं प्रकट हुए थे और वहां की जो दीवारें हैं उन पर शंख, चक्र, कमल के फूल, शोषनाग बने हैं, जो चित्रकारी है एक हिंदू स्थापित कला है। यह साफ प्रदर्शित होती है।”

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर