पूर्व मंत्री के पीए रह चुके मकान मालिक को नौकरों ने बंधक बनाया, हथौड़े से किया हमला, नगदी, जेवरात लेकर फरार

 

जयपुर.

  द्रोणपुरी कॉलोनी में 5 नौकरों ने अपने ही मालिक का घर लूट लिया। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री एमादुद्दीन अहमद खान उर्फ दुर्रु मियां के पीए और घर के अन्य सदस्यों पर दो नौकर और तीन नौकरानियों ने हथौड़े से हमला किया। इसके बाद घर में रखी नगदी, जेवरात लेकर फरार हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल परिजनों को अस्पताल पहुंचा। आरोपी घर से मालिक की कार लेकर भागे। बाद में फिर उसे एक्सप्रेस हाईवे पर खड़ी कर के फरार हो गए। पुलिस ने कार को बरामद कर ली है।

देररात नौकरों ने एक राय होकर पूर्व मंत्री के पीए रह चुके मकान मालिक मैथिलीशरण को बंधक बनाया। उसके बाद उनकी पत्नी, बच्चों को बंधक बनाया। आरोपियों ने मैथिलीशरण के काम पर हथोड़े से वार किया। मैथिलीशरण की पत्नी के साथ भी आरोपियों ने गम्भीर मारपीट की। इसके बाद उन्हें घायल अवस्था में छोड़ कर लॉकर तोड़ना शुरू किया। कुछ घंटों में बदमाशों ने मिल कर घर के सभी लॉकर और आलमारी खोल दी। ये बदमाश नौकर घर से लाखों रुपए की नगदी, जेवरात लेकर फरार हो गए। पांचों नौकर नेपाल के बताए जा रहे हैं।

रात को 8 बजे से लेकर 11 बजे के बीच पूरी वारदात को अंजाम दिया गया। घटना का पता तब चला जब मैथिलीशरण के बेटे मोहित ने संघर्ष कर किसी तरह से खुद के हाथ पैर खोले और पुलिस को सूचना दी। मौके पर एफएसएल और डॉग स्क्वायड की टीम को बुलाया गया है। टीम ने इलाके की छानबीन की, लेकिन कोई सबूत नहीं मिला। घर में सीसीटीवी नहीं लगा था। लुटेरे नौकर कितनी नकदी, जेवरात व अन्य सामान लूटे हैं, पुलिस इसका आंकलन कर रही है।

 नौकरों ने लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद घर के मालिकों के 6 मोबाइल लेकर फरार हो गए। जांच के दौरान पुलिस को कंट्रोल रूम से पता चला कि डकैत एक्सप्रेस हाइवे पर मैथलीशरण की क्रेटा कार लावारिस छोड़कर फरार हो गए हैं। कार से पुलिस को कई मोबाइलों की सिम भी मिली हैं। बहरहाल सभी मोबाइलों को ट्रैकिंग पर डाला गया है। अगर मोबाइल चालू हो जाते हैं तो बदमाशों की लोकेशन भी पुलिस को मिल जाएगी।

  नहीं कराया था पुलिस वैरिफिकेशन

डीसीपी वेस्ट रिचा तोमर ने बताया कि घटना में दो नेपाली नौकरों का पूरा हाथ है। इनमें से एक नौकर 1 साल पहले रखा गया था। दूसरा नौकर 1 माह पहले रखा था। दोनों ही नौकरों का पुलिस वैरिफिकेशन नहीं कराया गया। ये दोनों नौकर ही घर में काम करते थे। बाकी 3 महिलाएं बाहर से आई थीं।

 बॉर्डर पर भी किया गया अलर्ट

घटना की गंभीरता को देखते हुए एडिशनल पुलिस कमिश्नर अजय पाल लांबा ने नेपाल बॉर्डर पर भी अलर्ट कर दिया है। पुलिस को शक है कि बदमाश वारदात करने के बाद नेपाल में जा छुपेंगे। इसलिए बॉर्डर पर चेकिंग के लिए निर्देश दे दिए गए हैं।

 मैथिशरण शर्मा कांग्रेस सरकार में पूर्व चिकित्सा मंत्री ध्रुव मियां के PA रह चुके हैं। कर्णी विहार थाना इलाके में उनका प्रॉपर्टी का बड़ा व्यवसाय भी है। उनका बेटा मोहित भी प्रॉपर्टी का ही काम करता है। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने एक्सप्रेस हाईवे और टोल नाकों पर पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया है।

डकैती की वारदात में पुलिस की एक दर्जन टीमें बनाई गई हैं। यह टीमें लोकल लेवल पर इन्वेस्टिगेशन करने के साथ-साथ साइबर एक्सपर्ट की मदद लेते हुए बदमाशों की तलाश में जुट गई हैं।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू