राजनीतिक दल पर सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने का आरोप, कार्यवाही की मांग

 


भीलवाड़ा संपत माली
मुस्लिम नौजवान कमेटी की ओर से जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर भीलवाड़ा में सांप्रदायिक माहौल खराब करने का आरोप लगाते हुए राजनीतिक दल व संगठक संगठनों के प्रतिनिधियों के खिलाफ कार्यवाही कर गिरफ्तार करने की मांग की है।
कमेटी प्रमुख आजम खान ने कहा कि भीलवाड़ा शहर सहित जिले में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इसके पीछे भाजपा का हाथ है। भाजपा माहौल बिगाड़कर फिर से सत्ता पर काबिज होना चाहती है। खान ने कहा कि मांडल दरगाह का रात को ताला तोड़कर कुछ लोगों द्वारा झंडा लगा दिया जाता है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। इसी प्रकार पांसल गांव में एक दरगाह को ध्वस्त कर दिया गया। रायपुर दरगाह में घुसकर पूजा-अर्चना करने का आह्वान किया गया। रमजान के दौरान एक हॉस्पिटल के बाहर चाय पी रहे मुस्लिम युवकों पर हमला कर दिया गया लेकिन आरोपियों को नहीं पकड़ा गया। सांगानेर में दो युवकों पर हमला किया गया लेकिन सभी आरोपी नहीं पकड़े गए हैं। चार मुस्लिम युवकों के खिलाफ झूठी एफआईआर दर्ज कराई गई। गायत्री आश्रम चौराहे पर असामाजिक तत्व मुस्लिम युवतियों व एक नाबालिग से छेड़छाड़ करते हैं और एफआईआर दर्ज कराने के बाद भी आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई। इसके अलावा यूआईटी के पास एटीएम पर मुस्लिम युवकों से उनके नाम पूछकर मारपीट की गई।
खान ने कहा कि भीलवाड़ा में तीन ब्लाइंड मर्डर (जिलानी, इस्लामुद्दीन और तैयब काश हत्याकांड) का अब तक खुलासा नहीं कर पाई। कलेक्ट्रेट के बाहर विहिप व बजरंग दल की ओर से किए गए प्रदर्शन के दौरान सांप्रदायिक नारे लगाए गए, जिसकी एफआईआर कोतवाली में दर्ज कराने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं की गई। भीलवाड़ा के सार्वजनिक स्थानों पर कोई भी झंडा लगाने पर रोक लगाने के बावजूद विहिप, बजरंग दल और भाजपा कार्यकर्ताओं ने परशुराम सर्किल पर फिर झंडा लगा दिया लेकिन प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया। कोतवाली थाना क्षेत्र में हुई हत्या के मामले की जांच भी राजनीतिक दबाव में बदल दी गई। जहाजपुर में दरगाह की चादर जला दी गई, इसकी जांच का दायरा बढ़ाया जाना चाहिए। इसके अलावा हमीरगढ़ में सांप्रदायिक आपत्तिजनक नारेबाजी की भी जांच कराई जानी चाहिए। सांगानेर में जनवरी में हुए चुनाव में पार्षद की जीत पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने का आरोप भाजपा के विधायक ने लगाया है, जिस पर वीडियो की एफएसएल जांच करानी चाहिए और जांच में झूठे पाए जाने पर विधायक के खिलाफ अफवाह फैलाने का केस दर्ज कराया जाए। सुभाष नगर स्कूल में मुस्लिम छात्रों के साथ मारपीट की गई। इसमें क्रॉस केस दर्ज कराने के बाद भी नामजद आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई।
ज्ञापन में इस प्रकार की सभी घटनाओं की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग करते हुए कहा गया है कि तीन दिन में घटनाओं में लिप्त संगठनों के कार्यकर्ताओं और बीजेपी के भड़काऊ नेताओं के खिलाफ कार्यवाही नहीं की गई तो आंदोलन किया जाएगा। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू