बेटे की आत्महत्या से दुखी महिला ने जयपुर में की आत्मदाह की कोशिश, जली अवस्था में सीकर रोड पर मिली

 


जयपुर: शहर में शुक्रवार सुबह अर्धनग्न अवस्था में एक जली हुई महिला मिली है. उसे कांवटिया अस्पताल में दाखिल कराया गया है. पुलिस के मुताबिक इस महिला ने बताया है कि कुछ लोग उसे वहां फेंक कर गए हैं. उसका कहना है कि उसे मारपीट कर उसे जलाने का प्रयास किया गया है. पुलिस के मुताबिक महिला की दीमागी हालत ठीक नहीं है. बेटे की आत्महत्या की वजह से वह अवसाद में है. उसने अवसाद में ही आग लगाकर आत्मदाह का प्रयास किया है. इस महिला का अस्पताल में इलाज चल रहा है. 

कहां और कैसे मिली महिला

शहर के मुरलीपुरा थाना इलाके के सीकर रोड पर शुक्रवार को एक महिला की अर्धनग्न अवस्था में जली हुई स्थिति में  मिली.स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी. इस सूचना पर मुरलीपुरा थाना पुलिस मौके पर पहुंची. पुलिस युवती पर कम्बल डाल कर कांवटिया अस्पताल लेकर गई. वहां युवती का उपचार चल रहा हैं. झुलसी महिला का नाम मोहिनी है.वह करघनी इलाके की रहने वाली है.महिला सुबह अपनी कार में गई थी.उसकी कार भी जली हालत में मिली है. पुलिस के मुताबिक महिला के बेटे ने कुछ समय पूर्व आत्महत्या कर ली थी. इसकी वजह से वो अवसाद में थी.पुलिस के अनुसार महिला ने खुद अपनी कार में अपने ऊपर आग लगाई. फिलहाल महिला की हालत खतरे से बाहर है. पुलिस इसे प्राथमिक तौर पर आत्महत्या का प्रयास मान रही है.

मुरलीपुरा थाना पुलिस के मुताबिक सीकर रोड स्थित रोड नंबर एक सन एंड मून के पास महिला सड़क पर अर्धनग्न अवस्था में जली हुई मिली. युवती ने पहले पुलिस को पूछताछ में बताया है कि उसे यहां पर कुछ लोग फेंक कर गए हैं. उसका कहना है कि पहले उसके साथ मारपीट की गई. उसके बाद उस के शरीर पर ज्वलनशील पदार्थ डाल कर उसे जलाने का प्रयास किया गया.

इलाके में पहली बार देखी गई है महिला

स्थानीय लोग भी पुलिस को महिला के बारे में कोई जानकारी दे पा रहे हैं. उनका कहना है कि वह महिला पहली बार उन्होंने इस इलाके में देखा है. हालांकि पुलिस को शक है कि महिला मानसिक रूप से बीमार हैं. महिला का अभी कांवटिया अस्पताल में उपचार चल रहा है. डॉक्टर की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस महिला के बयान लेगी. पुलिस का कहना है कि महिला के बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी. 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार