आरएसी का जवान है 2.89 करोड़ की वारदात का मास्टरमाइंड रईश

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। ट्रेलर सहित 2.89 करोड़ का तांबा लदा ट्रेलर चुराने की वारदात का मास्टर माइंड कोई और नही, बल्कि आरएसी का जवान रईश कायमखानी है। यह आरोपित उदयपुर में तैनात है। हालांकि अभी तक यह आरोपित अपने 5 अन्य साथियों सहित फरार है, जिसकी पुलिस को तलाश है।  
मांडल पुलिस ने बीएचएन को बताया कि सात दिन पहले शाहपुरा तिराहा इलाके में हुई इस बड़ी वारदात का खुलासा गुरुवार को किया गया। मामले में निर्मल कुमार खोईवाल व  मुकेश तेली को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं  वारदात के मास्टर माइंड रईश व उसके 5 साथियों की पुलिस को अब भी तलाश है। पुलिस जांच और आरोपितों से पूछताछ में सामने आया कि इस वारदात का मास्टर माइंड रईश है, जो आरएसी में जवान है। रईश को अभी उदयपुर में तैनात किया हुआ है। 

पिता के निधन के चलते मिली नौकरी
पुलिस के अनुसार, रईश के पिता पहले राजस्थान पुलिस में कांस्टेबल थे। उनके निधन के बाद रईश को आरएसी में नौकरी मिल गई थी। रईश आरएसी में अभी चालक पद पर तैनात है। 

फिरोज एक माह के लिए गया था कंपनी में
वारदात में लिप्त आरोपित फिरोज एक माह के लिए ही उक्त कंपनी में चालक के पद पर काम करने गया था। नौकरी के चलते  उसे गाडिय़ों में माल लदान और आने-जाने वाले रास्तों व ठहराव की जानकारी थी। 

लांबिया टोल पर खड़ी की फिरोज ने अपना ट्रेलर 
जिस कंपनी का तांबा लदा ट्रेलर चोरी गया, उसी कंपनी का वाहन फिरोज चला रहा था। फिरोज को उक्त तांबा लदे वाहन की जानकारी थी। इसके चलते फिरोज ने वारदात से पहले अपना ट्रेलर अजमेर हाइवे स्थित लांबिया टोल पर खड़ा कर दिया था। फिरोज ने रईश को सूचना दी। इसके बाद रईश ने मुकेश को भेजा। माल की खपत की तेली ने हां भर ली। 

पोटलां ले गये ट्रेलर को, व्यवस्था नहीं बैठी तो..
मुकेश, खपत के लिए अपने साथ निर्मल को ले गया, जहां उसे बताया गया कि शाम को ट्रेलर आयेगा। माल को खपत करना है। निर्मल ने हां भर ली। इसके बाद तांबे से लदे ट्रेलर को  पोटलां ले जाया गया, लेकिन व्यवस्था नहीं बैठी। रातभर ट्रेलर को वहां रखा। 

फिर अहमदाबाद के कबाड़ी को सौंपी माल बैचने की जिम्मेदारी
रातभर तांबा लदा ट्रेलर पोटलां में रखने के बाद भी जब माल की खपत का रास्ता नहीं मिला तो  कन्हैयालाल उर्फ  कान्हा से संपर्क किया गया। कान्हा का अहमदाबाद में कबाड़ी का कारोबार है। कान्हा ने खपत के लिए हां तो भर ली, लेकिन आरोपितों के सामने एक शर्त यह रख दी कि जैसे-जैसे माल बिकेगा, वह भुगतान करता रहेगा।  

 चार सौ रुपये प्रति किग्रा की रेट की तय 
पुलिस पूछताछ में यह सामने आया कि तांबे के वर्तमान बाजार भाव आठ सौ रुपये प्रति किलो है, लेकिन कबाड़ी कान्हा ने अन्य आरोपितों से 400 रुपये किलो के भाव से सौदा तय किया। चोरी किये ट्रेलर में दो तरह का माल था। एक बड़ा, जो करीब 25 टन था, जबकि 12 टन माल छोटे 8 पैकेट में था। ये छोटे पैकेट अभी पुलिस के हाथ नहीं लग पाये। इनकी बरामदगी कबाड़ी कान्हा के गिरफ्त में आने के बाद ही हो पायेगी।   

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार