माइनिंग में निवेश के नाम पर 30 लाख रुपये हड़पे, राजस्थान विश्व विद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर पर एफआईआर दर्ज

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। राजस्थान विश्व विद्यालय, जयपुर के एक असिस्टेंट प्रोफेसर पर अलवर के एक व्यक्ति से माइनिंग में निवेश के नाम 30 लाख रुपये हड़पने के आरोप लगे हैं। पीडि़त ने इस संबंध में जिला पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू को शिकायत दी। इसके बाद आसींद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच शुरु कर दी। 

इंद्रा कॉलोनी, अलवर निवासी उत्तम 50 पुत्र किशनसिंह सैनी ने पुलिस अधीक्षक को रिपोर्ट दी कि खेड़ी, अलवर निवासी राजस्थान विश्व विद्यालय जयपुर में कार्यरत असोसिएटस प्रोफेसर गजेन्द्र सिंह पुत्र बलराज सिंह जाट परिवादी का पूर्व परिचित होने से जनवरी 2021 में  परिवादी से कहा कि राजस्थान विश्व विद्यालय जयपुर का बड़ा अधिकारी होकर ग्राम धौली तहसील आसीन्द में खनिज का बहुत ही बड़ा कारोबार करता है। धोली की माइनिंग कारोबार में निवेश करने पर बहुत अच्छा मुनाफा अदा करने की बात कही। इसके बाद गजेंद्र सिंह अपने साथ लेकर ग्राम धोली  अपने वाहन में अपने साथ बैठाकर लेकर आया।  गजेन्द्र सिंह ने माईनिंग कारोबार के बारे में बताकर कहा कि अगर आप माईनिंग क्षेत्र ग्राम धौली में 30 लाख रूपये 03 वर्ष के लिए निवेश करते है अर्थात 03 वर्ष के लिए 26 जनवरी 2021 से  25 जनवरी 2024 तक के रहेगा यानि प्रत्येक वर्ष माह मार्च से फरवरी के मध्य 10 माह के लिए 3 लाख रूपये गजेन्द्र सिंह परिवादी को अदा करेगा ।  प्रत्येक वर्ष में माह अगस्त सितम्बर (वर्षाकालीन समय) को छोड़कर उक्त राशि तीन लाख रूपये प्रत्येक वर्ष के 10 माह के लिए अदा की जायेगी अर्थात गजेन्द्र सिंह परिवादी को 26 जनवरी 2021 से 25 जनवरी 2024 के मध्य कुल 30 किश्तों में 3  लाख रूपये  प्रतिमाह परिवादी को अदा करेगा।
 गजेन्द्र सिंह ने परिवादी को उक्त राशि तीस लाख रूपये की अदायगी के लिए अपने बैंक सेन्ट्रल बैंक ऑफ  इण्डिया शाखा चौमू हाउस जयपुर का एक चेक निष्पादित कर  अदा किया व गजेन्द्र सिंह माह अगस्त व सितम्बर को छोड़कर लगातार 03 माह की मासिक किश्तो की अदायगी समय पर नही करता है।  परिवादी ने विश्वास करते हुए गजेन्द्र सिंह को तीस लाख रूपये नकद अदा किये ।  गजेन्द्र सिंह ने एक इकरार नामा अपने नाम से क्रय कर अदा किया।  उसके पश्चात गजेन्द्र सिंह ने  इकरार नामा की शर्तीनुसार फर्दन कर्दन अदा कीए लेकिन आज तक परिवादी का  गजेन्द्र सिंह में लगभग 60-65 लाख रूपये बकाया चल रहा है लेकिन गजेन्द्र सिंह निरन्तर टालमटोल कर चक्कर देते चले आ रहे है।  बकाया राशि अदा करने से गजेन्द्र सिंह ने रूपये देने से साफ तौर से इन्कार कर दिया। झूंठा केस दर्ज करा जेल करवाने की धमकी दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी।   

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना