अन्तर्राज्यीय गैंग के चार बदमाशों को दबोचा, 4 लग्जरी कारें बरामद, डिमांड के आधार पर वारदात, फार्म हाउस में छिपाते थे चोरी की कारें

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। सुभाषनगर पुलिस ने अंतरराज्यीय गैंग के चार बदमाशों को दबोचकर चार लग्जरी कारें बरामद की है। ये चारों कारें सुभाषनगर थाना इलाके से चोरी हुई थी। इस कार्रवाई को वृत्ताधिकारी सदर रामचन्द्र चौधरी (आर. पी.एस.) के निर्देशन और थाना प्रभारी नंदलाल रिणवा के नेतृत्व में गठित टीम ने अंजाम दिया।  

सुभाषनगर थाना प्रभारी नंदलाल रिणवा ने पत्रकारों को बताया कि  लग्जरी वाहनो की चोरी की वारदात के खुलासे के लिए गठित टीम ने  तरीका वारदात के आधार पर पूर्व में चालानशुदा मुल्जिमानो का डाटाबेस तैयार कर  उनसे पूछताछ की । टीम ने  अलग-अलग जगह हुई वारदातों के घटनास्थल का निरीक्षण कर आसपास के सीसीटीवी कैमरो का बारीकी से निरीक्षण कर घटना में प्रयुक्त वाहनो का रूट विश्लेषण किया गया।  मुखबीर लगाये गये।  तकनीकी सूचनाओं का संलकन किया गया। वाहन चोरी की वारदात से लेकर अब  तक  इस   टीम के सदस्यो ने राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा, उत्तरप्रदेश आदि राज्यो से आसूचना एकत्रित कर अथक प्रयासो से संदिग्ध आरोपियों के बारे में जानकारी प्राप्त की गयी।  थाना सुभाषनगर की टीम के सदस्य एएसआई कमलेश कुमार, मोतीराम, दीवान सतीश , सूरतसिंह , इस्लाम मोहम्मद ,लोकेश , गिरधारी  की सूचना पर लग्जरी गाडियो की चोरिया करने वाले संदिग्ध सरगना  कूंजीलाल उर्फ  बन्नेसिंह पुत्र रामधन गुर्जर  निवासी महरावंड सवाईमाधोपुर,  विनोद पुत्र रामस्वरूप मीणा  निवासी मंत्री की ढाणी मंडावरी  जिला दौसा,  राजवीर पुत्र प्रभुलाल  मीणा निवासी जलालपुरा  जिला सवाईमाधोपुर, रामनिवास विश्नोई पुत्र मोहनराम विश्नोई   निवासी जांगुवास,  जिला जोधपुर को प्रोडेक्शन वारंट के तहत गिरफ्तार कर  इनसे चोरी की वारदात में प्रयुक्त हाईटेक एक्स टूल ओबीडी स्टार की मास्टर डिवाईस, सेंसर चिपें,  मास्टर चाबी, पेचकस आदि सामान बरामद किया गया। 
लग्जरी कारों को एक से दो लाख में बैचना कबूल किया
आरोपितों ने चुराई हुई गाडियो को तस्करो के सरगना जोधपुर निवासी रामनिवास विश्नोई को 1 से 2 लाख रूपये में बेचना कबूल किया, जिस पर रामनिवास विश्नोई को भी प्रोडेक्शन वारंट के तहत गिरफ्तार कर  उसके कब्जे से दो हुण्डई  क्रे टा, एक आई-20, ईको   कार   जप्त की गयी। रामनिवास इन गाडियो को मुनाफा कमाने के लिये अजमेर, भीलवाडा, जोधपुर में फार्म हाउस किराये पर लेकर छुपाकर रखता था।  मौका मिलते ही मादक पदार्थों के तस्करो को बेच देता था। आरोपित कुन्जी लाल गुर्जर, विनोद मीणा, रामनिवास विश्नोई जयपुर, जोधपुर, दौसा, भीलवाडा आदि जिलो के पुलिस थानो के कई प्रकरणो में वांछित है। 

लग्जरी कार की तलाश में घूमते, मौका मिलते ही चुरा लेते

लग्जरी कार की डिमाण्ड होते ही कुन्जी लाल अपने साथियो के साथ गाडी चोरी करने की फिराक में रात को शहर में घूमते और जहां भी हुण्डई कम्पनी की क्रेटा, आई 10, आई 20 लग्जरी गाडिया देखते वहां पर रैकी करते और मौका मिलते ही कुन्जी लाल का साथी विनोद मीणा गाडी के साईड में पीछे की तरफ  के साईड कांच को तोडकर एक हाथ अन्दर डालकर फाटक खोलता व अन्दर जाकर मास्टर चाबी से गाडी को केवल ऑन कर बाहर आ जाता। फिर कुन्जी लाल अपने द्वारा दिल्ली से लायी हुयी एक्स टूल हाईटेक डिवाईस को लेकर गाडी के अन्दर जाता और गाड़ी के सिस्टम को हैक कर कोड प्राप्त कर गाड़ी को स्टार्ट कर चोरी कर ले जाते तथा शहर से बाहर जाकर गाडी के नम्बर प्लेट बदलकर वारदात को अंजाम देते।

यू. ट्यूब पर विडियो देखकर सीखा  लॉक तोडना
आरोपितों ने पूछताछ में खुलासा किया कि लग्जरी गाडियो के लॉक तोडने का सिस्टम यू ट्यूब पर सर्च कर सीखा । फिर एक्सटूल हाईटेक डिवाइस से सिक्यूरिटी सिस्टम हैक कर देते । ये शातिर वाहन चोर गिरोह लाखो की कीमत की हाईटेक डिवाईस की मदद से लग्जरी गाडीयो का सिक्यूरिटी सिस्टम हैक कर लग्जरी गाडी को मात्र 5 मिनट में चोरी कर लेते।

 चोरी की कारें  रामनिवास  को करते थे सप्लाई 
 शातिर चोर गिरोह लग्जरी गाडियो को चोरी करने के बाद तस्करो के सरगना रामनिवास विश्नोई पुत्र मोहन राम को गाडी 1 से 2 लाख रूपये में बेच देते। फिर रामनिवास चोरी की गाडियो को एक फार्म हाउस किराये पर लेकर छिपाकर रखता था। चोरी की गाडियों को मादक पदार्थो के तस्करो को मुनाफा कमाकर बेच देता । अब तक 100 के लगभग लग्जरी गाडियां चोरी की वारदात को दे चुके है अंजाम:- शातिर चोर गिरोह अधिकांशत जयपुर, भीलवाडा, अजमेर, उदयपुर, टोंक, जोधपुर, जालौर, चितौडगढ़ आदि जिलो में 100 के लगभग चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुके है।

किस पर कितने प्रकरण दर्ज

आरोपित कुन्जी लाल उर्फ  बने सिंह गुर्जर के विरूद्ध पूर्व में कुल 38 आपराधिक मामले दर्ज है। जिनमें चोरी, नकबजनी, आम्र्स एक्ट, अपहरण के प्रकरण दर्ज है तथा अभियुक्त विनोद कुमार मीणा के विरूद्ध पूर्व में कुल 27 प्रकरण दर्ज है जिनमें अधिकांशत चोरी के प्रकरण व 2 बलात्कार के प्रकरण दर्ज है। अभियुक्तगण कुन्जी लाल गुर्जर, विनोद मीणा, रामनिवास विश्नोई जयपुर, जोधपुर, दौसा, भीलवाडा, सवाईमाधोपुर आदि जिलो के पुलिस थानो के कई प्रकरणो में वांछित है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार