ब्याज माफिया ने किया ग्रामीण का अपहरण, मांगे 5 लाख, 1 लाख लेकर छोड़ा, बेटी व जमीन बैचकर वसूली की दी धमकी

 

 बीमार है बेटे-बेटी, 2 रुपये सैकड़ा के ब्याज पर उधार लिये तीन लाख
भीलवाड़ा बीएचएन।  एक ग्रामीण ने 2 रुपये सैकड़ा पर तीन लाख रुपये उधार लिये, लेकिन माफिया ने इसके बाद वसूली 10 रुपये सैकड़ा के हिसाब से करने का प्रयास किया। इसके लिए माफिया ने साथियों के साथ मिलकर ग्रामीण को अगवा कर न केवल बंधक बनाया, बल्कि पांच लाख रुपये की मांग भी की। बाद में एक लाख रुपये लेकर ग्रामीण को रिहा किया गया। पीडि़त ने एएसपी सहाड़ा को शिकायत दी, जिस पर कारोई पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

कारोई पुलिस ने  गुरलां निवासी तुलसीराम 50 पुत्र भारमल रैगर ने एएसपी सेक्टर सहाड़ा गोवर्धन लाल को शिकायत दी जिसमें स्टेशन रोड़, हमीगढ़ निवासी हरीश पुत्र राधेश्याम पारीक व तीन-चार अन्य लोगों को आरोपित बनाया है। 
तुलसीराम ने रिपोर्ट में बताया कि वह अनुसुचित जाति का व्यक्ति है, जो मजदुरी करता है। उसके बेटे रतन को कम दिखाई देता है और बीमार रहता है । बेटी, सायरी जो कि मानसिक रूप से मुंदबुध्दि है । वह भी बीमार रहती है। इसके लिये रूपयो की आवश्यकता थी। तुलसीराम ने यह बात अपने पावना किशन रेगर हमीरगढ वालो को बताई, तो उन्होने हमीरगढ के हरीश पारीक का ब्याज पर रूपये देने-लेने का काम है । दामाद ने हरीश से बात कर उसे गांव ले आने की बात कही।  
 करीब 10 माह पूर्व किशन, हरिश पारीक को लेकर कारोई आये और परिवादी को भी कारोई बुलाया । जहां हरिश पारीक से परिवादी ने 3 लाख रूपये उधार मांगे। उन्होने दो रूपये प्रति सैकडा की दर ब्याज लेना तय कर परिवादी को 3 लाख रूपये उधार दिये। उसके बाद परिवादी को डरा धमका कर उसकी जमीन जोकि गुरला में है, उसके असल दस्तावेज ले लिये और उसकी रजिस्टरी भी कर ली ।  उसे डरा -धमका कर उसके कई खाली कागजों व स्टाम्पों  पर हस्ताक्षर करवा लिये और  ब्याज टाईम पर दे देने के लिए कहा। 
इसके बाद हरीश ब्याज 10 रूपये सैकडा वसुल करने लगा और 1000 रूपये प्रतिदिन के हिसाब से पेनल्टी जोडऩकर मनमानी राशि वसुलना शुरू कर दिया। परिवादी ने विरोध किया तो उसे  बड़ला चौराया गुरलां आकर आये दिन जातिगत गालिया देकर कहता कि  तुने रूपये नहीं दिये तो तेरी जमीन को बेच दुंगा। आरोपित के साथी परिवादी को कार में  बंधक बनाकर  हमीरगढ ले गये वहां पर उसके साथ मारपीट की और 5 लाख रुपये लेकर पावना किशन को फोन कर बुलाने की बात कही। साथ ही यह भी कहा कि रुपये आने के बाद ही उसे जिंदा जाने देंगे।  किशन ने परिवादी के भाई रामचन्द्र को फोन  कर बोला कि तुलसीराम  को हरिश पारीक व उसके लोगो ने बंधक बना रखा है और 5 लाख रूपये की मांग कर रहे है । इसके बाद भाई रामचन्द्र एक लाख रूपये की व्यवस्था कर किशन  को लेकर हमीरगढ़ आये और एक लाख रूपये हरिश पारीक को दिये । उसके बाद हरिश पारीक ने बोला कि बाकी रूपये 15 दिन मे ले आना नही तो बेटी व जमीन को बैच कर रूपये वसुल करूंगा। उसके बाद  14 दिसंबर 2022 को दिन मे करीब 2 बजे लगभग भाई रामचन्द्र को फोन कर बोला कि तु कल बाकी रूपये लेकर नही आया तो अंजाम अच्छा नही होगा। इसके अगले दिन 15 दिसंबर को लगभग दिन में 3 बजे परिवादी का भाई व उसका दोस्त रतन खोईवाल  सभी रूपयो का हिसाब करने हमीरगढ गये तो उसने 3 माह के 1000 रूपये प्रतिदिन के हिसाब से पेनल्टी जोडी व 10 रूपये सैकडा का ब्याज जोडा। परिवादी ने आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने और मूल राशि लेने व जमीन के कागजात लौटाने के लिए कहा तो परिवादी के भाई व  दोस्त को गालियां निकाली और कहा कि तुम लोगों को देख लूंंगा। तुम्हे  रूपये तो देने पडेंगे वरना तुम्हारी जमीन व लडकी को बेच कर रूपये वसूल करूंगा उसके बाद हमारे साथ मारपीट करने लगे तो हम जान बचाकर वहां से भाग आये और मेरे पावना किशन को भी फोन कर धमकिया दे रहा है कि अगर रूपये नही दिये तो तुझे गांव मे जीने नही दुंगा। परिवादी का कहना है कि वह डरा व सहमा हुआ है। साथ ही परिवादी तुलसीराम ने चेतावनी भी दी है कि अगर न्याय नहीं मिला तो उसके पास आत्महत्या के अलावा कोईऔर रासता नहीं बचेगा। पुलिस ने इस रिपोर्ट पर केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना