राहुल, प्रियंका के साथ 76वां बर्थडे मनाने राजस्थान पहुंची सोनिया, भारत जोड़ो यात्रा में भी हो सकती शामिल

 


 राजस्थान जिले के सवाई माधोपुर में स्थित रणथम्भौर के नेशनल पार्क में कांग्रेस के दो पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अलग-अलग समय में हेलीकॉप्टर से शेरपुर हेलीपैड पहुंचे. इस समय पूरा गांधी परिवार रणथम्भौर नेशनल पार्क में आया हुआ है. रणथम्भौर के नेशनल पार्क में सोनिया गांधी अपनी बेटी प्रियंका वाड्रा और बेटे राहुल गांधी के साथ अपना 76वां जन्मदिन मनाने पहुंची हुई हैं.
    
गौरतलब है की वर्ष 1985 में नव वर्ष का पहला सप्ताह तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने पारिवारिक दोस्तों के साथ रणथम्भौर में बिताया था. वह अपने पूरे परिवार के साथ इस दौरान अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, अभिषेक बच्चन, श्वेता बच्चन और बृजेन्द्र सिंह के साथ यहां आए थे. उस समय भी उनके आने के लिए शेरपुर गांव में हेलीपैड बनाया था और इसी हेलीपैड परअब 37 साल बाद कांग्रेस पार्टी की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और स्व.राजीव गांधी की पत्नी सोनिया गांधी और उनका पुत्र राहुल गांधी उसी हेलीपैड पर फिर से उतरे हैं.

गुरुवार सुबह 9 बजकर 35 मिनट पर सोनिया का हेलीकॉप्टर लैंड किया. सड़क मार्ग से प्रियंका गांधी 11 बजे रणथम्भौर पहुंचीं. प्रियंका गांधी के रणथम्भौर पहुंचने के बाद एक बजकर 20 मिनट पर राहुल गांधी हेलीकॉप्टर से  रणथम्भौर पहुंचे थे. पिछले साल प्रियंका गांधी ने भी अपना जन्मदिन इसी होटल शेर बाग में मनाया था.


सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त 
सोनिया गांधी का 76वां जन्मदिन मनाने के लिए गांधी परिवार  रणथम्भौर रोड स्थित होटल शेर बाग में रुके हुए हैं. गांधी परिवार हमेशा से इसी होटल में रुकते आए हैं. गांधी  परिवार की मौजूदगी के चलते पुलिस ने रामसिंहपुरा गांव से लेकर होटल तक जाने वाले कच्चे मार्ग को भी सुरक्षा के घेरे में ले लिया गया है. खास बात यह है कि इस रास्ते पर इस होटल के अलावा तीन अन्य होटल भी बनी हुई है. इन सभी होटलों में जाने वाले पर्यटक ओर वाहनों को भी पूछताछ घंटा से जांच के बाद जाने दिया जा रहा है. इस पूरे क्षेत्र से मीडिया के लोगों से दूर रखा जा रहा है और किसी भी राजनीतिक व्यक्ति को जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है.

जानकारी के अनुसार, कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुरुवार शाम को रणथंभौर भ्रमण किया. सोनिया गांधी को दो स्थानों पर एक नर व एक मादा बाघ देखने को मिले. सोनिया गांधी लगभग 2 घंटे तक रणथम्भौर के जंगल में रही और वन्यजीवों की अठखेलियां देखीं. सोनिया गांधी पहले जोगी महल पहुंची और कुछ देर वहां रुकीं.

सोनिया गांधी अपने पति राजीव गांधी के साथ दिसंबर 1985 में भी रणथम्भौर आई थीं और सात दिन तक अमिताभ बच्चन व राजीव गांधी का परिवार रणथंभौर के जंगल में स्थित जोगी महल पर रहे थे. गुरुवार को 37 साल बाद एक बार फिर दिसम्बर माह के सर्दी केमौसम में सोनिया गांधी ठीक उसी जगह पहुंची और अपनी पुरानी यादों को ताजा किया.

सोनिया गांधी खुली जिप्सी में बैठकर रणथंभौर भ्रमण के लिए चली गई. इस दौरान उन्होंने सबसे पहले मलिक तालाब की पाल पर बाघिन को देखा उसके बाद  गुलर कूई नामक स्थान पर एक नर बाघ को देखा. सोनिया गांधी ने लगभग 2 घंटे रणथम्भौर के जंगल में व्यतीत किए.

3 दिन के लिए होटल बुक
कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी का 76वां जन्मदिन मनाने के लिए गांधी परिवार रणथंभौर पहुंचा है जहां गांधी परिवार तीन दिन तक साथ रहेगा. अभी हाल में गुजरात और हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनाव परिणाम में गुजरात में पार्टी को काफी नुकसान हुआ है तो हिमाचल प्रदेश में स्पष्ट बहुमत मिला है. रणथम्भौर में हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम को लेकर चर्चा हो सकती है.

राजस्थान में भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के आपसी विवाद को सुलझाने पर भी विचार किया जा सकता है. रणथम्भौर में सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा की एक साथ मौजूदगी के राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं. इस दौरान कांग्रेस व गांधी परिवार के निर्णय में अहम भूमिका निभाने वाले कुछ खास लोग भी आ सकते हैं. गांधी परिवार का 3 दिन तक रणथंभौर में ठहराव बताया जा रहा है. हालांकि होटल शेर बाग में 12 दिसंबर तक अन्य पर्यटकों की बुकिंग बंद कर दी है.

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत