जांच में रोक के बाद काम कराना पाया, बनेड़ा पंचायत का मामला

 


भीलवाड़ा (हलचल)। बनेड़ा पंचायत द्वारा लोगों के विरोध और कोरम में काम न कराने के फैसले के बावजूद निर्माण कार्य करा देने के मामले की विकास अधिकारी द्वारा करवाई गई जांच में पंचायत को बिना स्वीकृति के काम कराने का दोषी माना गया है। 
भीलवाड़ा हलचल ने पिछले दिनों बनेड़ा पंचायत द्वारा हमीद खां कायमखानी के बाहर से ब्राह्मणों के पंचायती नोहरे तक नाली निर्माण व सीसी सड़क निर्माण की वित्तीय स्वीकृति पंचायत ने दी थी लेकिन 20 फरवरी 2020 को ग्राम पंचायत बनेड़ा की कोरम बैठक में रजिस्टर के पेज 48 पर प्रस्ताव नम्बर 3 के मुताबिक मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद द्वारा निर्माण कार्य पर रोक लगा दी गई थी। लेकिन कार्यकारी अधिकारी की रोक के बावजूद 29 मई 2020 को मस्टररोल नम्बर 91220 दिनांक 1 जून 2020 से 15 जून 2020 तक की अवधि का कार्य का नाम हमीद खां के बाहर से ब्राह्मणों के पंचायती नोहरे तक नाली निर्माण व सीसी कार्य करवा 82 हजार 478 रुपए खर्च किये गये। इस पर विकास अधिकारी ने एक जांच टीम का गठन किया। जिसमें तकनिकी सहायक राकेश सैनी, लेखा अधिकारी सुधागर पाटोदिया, सहायक अभियंता बुद्धिप्रकाश, सहायक विकास अधिकारी विष्ण्ुा पारीक ने जांच की। जांच में पाया कि रोक के बावजूद पंचायत ने कुछ घंटों का काम पन्द्रह दिन में करवाया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती