वनरक्षक ने बारह बोर बंदूक की एनओसी के बदले मांगी रिश्वत, परिवादी पर हुआ शक तो ग्रहण नहीं की रिश्वत राशि

 

 कोटा बीएचएन। बारह बोर बंदूक की एनओसी के बदले वनरक्षक के आठ हजार रुपये की रिश्वत मांगने व परिवादी पर शक होने पर रिश्वत ग्रहण नहीं करने का मामला सामने आया है।  
एएसपी एसीबी कोटा विजय स्वर्णकार ने बीएचएन को बताया कि कोटा एसीबी कार्यालय में 30 सितंबर 22 को हेमंत अग्रवाल पुत्र स्व. धनेश अग्रवाल ने रिपोर्ट दी कि उसके पिता की एक डबल बैरल बन्दूक बारह बोर को पिता की मृत्यु होने के कारण परिवादी के नाम ट्रांसफर करवानी थी। इस संबंध में वन विभाग की ओर से  जारी की जाने वाली एनओसी के लिये कार्यालय उप वन संरक्षक रावतभाटा रोड इंजिनियरिंग कालेज के सामने, कोटा में पदस्थापित वन रक्षक अनिल चौधरी द्वारा वन विभाग की एनओसी जारी करने के एवज में 10,000 रूपये रिश्वत मांगी जा रही है। इस शिकायत का गोपनीय सत्यापन उसी दिन करवाया गया तो अनिल चौधरी द्वारा 8,000 रूपये रिश्वत की मांग करना पाया गया। बाद में आरोपी अनिल चौधरी को परिवादी पर शक होने से उसके द्वारा रिश्वत राशि ग्रहण नहीं की गई। इस पर अनिल चौधरी के विरूद्ध धारा 7 भ्रष्टाचार निवारण (संशोधन) अधिनियम 2018 के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज  कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार