कड़ी सुरक्षा में जिला अस्पताल ले जाया गया दिनेश सांखला, मेडिकल चेकअप के बाद पुन: करवाया जेल दाखिल

 

 भीलवाड़ा बीएचएन। नागौर में गैंगस्टर संदीप विश्नोई की हत्या होने के बाद भीलवाड़ा जेल में बंद दिनेश सांखला को आज न्यायालय के आदेश से मेडिकल चेकअप के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच जिला अस्पताल ले जाया गया। सांखला को  अस्पताल  लाने से पहले पूरे हॉस्पिटल को पुलिस ने हथियारबंद जवानों के साथ छावनी में बदल दिया था। बता दें कि दिनेश सांखला की हत्या करने के लिए गैंगस्टर संदीप विश्नोई ने 30 लाख रुपए की सुपारी ली थी। 

जेल अधीक्षक भैंरू सिंह ने बीएचएन को बताया कि भीलवाड़ा जेल में हत्या के एक मामले में आरोपित दिनेश सांखला बंद है। उसे कुछ समय पहले सुरक्षा कारणों से अजमेर जेल से यहां शिफ्ट किया गया। सिंह का कहना है कि दिनेश ने हाईकोर्ट में एप्लीकेशन लगाई थी। इस पर हाईकोर्ट ने आदेश जारी किये कि दिनेश सांखला के पैर का पूर्व में ऑपरेशन हो रखा था। पैर में कोई रॉड लगी हुई है। कोर्ट ने आदेश दिये कि ऐसे में दिनेश के पैर में लगी रॉड निकालना आवश्यक है या नहीं, इसके लिए उसका मेडिकल चेकअप करवाया जाये। साथ ही डॉक्टर्स की रिपोर्ट हाईकोर्ट को भेजी जाये।
इसी आदेश के तहत सोमवार को  दिनेश सांखला को मेडिकल जांच के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच जिला अस्पताल ले जाया गया। ले जाया गया था। उसे जांच के बाद पुलिस फिर से  भीलवाड़ा जिला कारागार में शिफ्ट करवा दिया। इस दौरान हथियारबंद पुलिसकर्मी सुरक्षा व्यवस्था के लिए लगाये गये।  

दिनेश को जान का खतरा, जताई थी आशंका  
दिनेश सांखला नागौर में रघुवीर सिंह माली की हत्या के मामले में जेल में बंद है। बताया गया है कि उसे अपनी जान का खतरा महसूस हो रहा था। ऐसे में उसने कोर्ट में भी अपनी सुरक्षा बढ़ाने की अर्जी पूर्व में दाखिल की थी, जिसके चलते पुलिस व जेल प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े प्रबंध किये हैं।  

  विश्नोई ने ली थी सांखला की सुपारी
दिनेश सांखला ने नागौर में रघुवीर सिंह माली की हत्या की थी। इस हत्या का बदला लेने के लिए रघुवीर सिंह की पत्नी ने संदीप विश्नोई को दिनेश सांखला को मारने के लिए 30 लाख रुपए की सुपारी दी थी। संदीप ने दिनेश की हत्या करने के लिए उसके हर मूवमेंट की जानकारी जुटाना शुरू कर दिया था।

दिनेश से पहले पहुंची पुलिस ने हॉस्पिटल में बढ़ा दी चौकसी 
दिनेश को सोमवार को जिला कारागृह से जिला अस्पताल लाने से पहले कोतवाली, भीमगंज पुलिस मौके पर पहुंच गई। वहीं स्पेशल कमांडो व पुलिस लाइन का जाब्ता दिनेश को कड़ी सुरक्षा के बीच जिला जेल लेकर पहुंचा। जब तक दिनेश की मेडिकल जांच नहीं हुई। तब तक वहां पर लोगों की आवाजाही को भी रोक दिया गया। साथ ही कड़ी चौकसी भी बरती गई।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत