बिना मानदेय आशाऐं कोई कार्य नहीं करेगी, जबरन कार्य लिया गया तो करेगी आंदोलन

 


 

भीलवाडा (प्रहलाद तेली)।  भामस से संबंधित आशा सहयोगिन कर्मचारी संघ भीलवाडा के बैनर तले सैकडो आशाओ ने शिला सेन तथा जिला महामंत्री सीता सोनी के नेतृत्व में जिला कलक्ट्री पर एकत्रित होकर चिकित्सा विभाग के कुछ अफसरो/कर्मचारियो के हीटलरसाही व्यवहार पर रोष प्रकट किया।
             धरने को सम्बोधित करते हुये संघ के वरिष्ठ श्रमिक नेता प्रभाष चौधरी, जुम्मा काठात, समाज सेवी आजाद शर्मा एडवोकेट ने राज्य सरकार एवम् चिकित्सा विभाग के शोषणवादी तरीके पर आक्रोश प्रकट करते हुये सरकार और विभाग की जमकर आलोचना की। नेताओ ने कहा कि राज्य सरकार इनको परमानेन्ट करने का वादा करके भूल गई तथा अपना वचन निभाने में असफल रही है।
             प्रभाष चौधरी और महासंघ की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुशीला जोशी ने कहा कि आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की तरह आशाओ को भी मोबाईल दिलाया जावे, रिचार्ज का हर माह पैसा दिलाया जावे, जो काम राज्य केन्द्र की सरकार ने मानदेय के आधार पर बता रखे है वही काम कराया जावे, अन्य कार्य इन पर थौपने के बजाय विभाग अपने अन्य कर्मचारियो से करावें। आशाऐं बिना मानदेय वाले कोई कार्य नहीं करेगी यदि जबरन धमकाकर कार्य लिया गया तो आंदोलन किया जावेगा।
             धरना प्रदर्शन में छोटी जीनगर, मनीषा लुहार, लक्ष्मी सुवालका, मन्जु सुवालका, लाड़जोशी, चन्द्रकान्ता तेली, सुरज शर्मा, कमलेश, जमना कोली, शान्ता जाट, सुनीता टेलर सहित कई आशा सहयोगीने उपस्थित थी।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा