शिनाख्त परेड -चाकू की नौंक पर छाऊ को लूटने वाली गैंग के तीन सदस्यों के चेहरों से उतरा नकाब

 

भीलवाड़ा बीएचएन  । व्यासजी का बड़ला गांव की एक बुजुर्ग महिला से चाकू की नौंक पर गहने लूटने वाली गैंग के तीन सदस्यों के चेहरों से नकाब हट गया है ।इससे पहले इन बदमाशों की जिला जेल में पीड़िता और एक गवाह से शिनाख्त परेड करवाई गई। मंगरोप पुलिस अब इन बदमाशों को पुनः रिमांड पर लेकर गहनों की बरामदगी करेगी। 
 मंगरोप थाने के सहायक उप निरीक्षक सत्यनारायण शर्मा ने बीएचएन को बताया कि चार नवंबर को व्यासजी का बड़ला गांव की छाऊ 62 पत्नी दल्ला जाट हमेशा की तरह बकरियां चराने बड़लियास रोड़ पर गई। गांव से करीब 800 मीटर दूर जंगल में वह सड़क पर बैठी थी, जबकि बकरियां सड़क किनारे चर रही थी।  सुबह  करीब 11.40 से 12 बजे  के बीच दो बाइक पर 4 बदमाश बैठ कर आये थे । दोनों बाइक से एक-एक आरोपित नीचे उतरा और छाऊ के सात ग्राम सोने के टोप्स लूट लिये। इन बदमाशों ने छुर्रा बताकर छाऊ को अंग्रेजी बबूल मे ले जाने की कोशिश की, तभी एक बाइक सवार को आता देखकर बदमाश भाग गये। इस संबंध में महिला के भतीजे भैंरूलाल पुत्र कन्हैयालाल जाट ने मंगरोप थाने में रिपोर्ट दी, जिसमें बताया कि अगर बाइक सवार नहीं आता तो ये बदमाश उसकी काकी की चांदी की कडिय़ां व हाथ में चांदी के कड़े ले जाते एवं उसकी काकी के हाथ पैर काट देते।  टोप्स खींचने से छाऊ के कान फट गये थे। उधर,छाऊ के साथ लूटपाट करने वाली गैंग ने वारदात के दो घंटे बाद चित्तौडगढ़़ जिले के साड़ास थाना इलाके में लूट की एक और अंजाम दिया था। इस मामले में साड़ास थाना पुलिस ने गैंग को गिरफ्त में लेकर कोर्ट के आदेश से जेल भिजवा दिया ।
इधर, मंगरोप थाना पुलिस ने आरोपितों का कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट प्राप्त करते हुए पिछले दिनों छाऊ जाट से लूट के मामले में बाल अपचारी को निरुद्ध, जबकि बिजयपुर थाने के दूदीतलाई निवासी अरुण पुत्र जानकीलाल कंजर, भरत पुत्र श्यामलाल कंजर व मोती मंगरी, बिजयपुर निवासी पीलेश उर्फ पीवलिया पुत्र कालूराम कंजर को चित्तौडगढ़़ जेल से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बाल अपचारी को बाल सुधारगृह, जबकि तीन गिरफ्तार आरोपियों को शिनाख्त परेड के लिए जिला कारागृह भिजवा दिया था। मंगरोप पुलिस ने बदमाशों की शिनाख्त के लिए न्यायालय से समय लिया। न्यायालय के आदेश से एसडीएम भीलवाड़ा की उपस्थिति में जिला कारागृह में मंगलवार शाम को बदमाशों की वारदात के चश्मदीद गवाह के साथ पीड़ित महिला से शिनाख्त करवाई गई। पुलिस का कहना है कि अब पीड़िता से लूटे गए गहनों की बरामदगी के लिए पुलिस तीनों आरोपियों को पुनः रिमांड पर लेगी।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत