प्रधानाचार्य मंडेला को घोड़ी पर बैठा कर निकाली शोभायात्रा, पंचायत के सभी विद्यार्थियों को कराया सामूहिक भोज

 

 शाहपुरा मूलचंद पेसवानी शाहपुरा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत कादीसहना मुख्यालय पर स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य सत्येंद्र मंडेला की राजकीय सेवा से सेवानिवृत्त होने पर विद्यालय में आयोजित विदाई समारोह के बाद सरपंच भगवत सिंह राणावत की अगुवाई में ग्रामीणों की ओर से सेवानिवृत्ति पर भव्य आयोजन किया गया। इस दौरान प्रधानाचार्य सत्येंद्र मंडेला को घोड़ी पर बैठा कर पूरे पंचायत मुख्यालय पर शोभायात्रा के रूप में ग्रामीणों ने जगह-जगह स्वागत किया। बाद में शाहपुरा के गांधीपुरी में आयोजित समारोह में भी प्रधानाचार्य मंडेला का अभिनंदन किया गया। प्रधानाचार्य सत्येंद्र मंडेला की राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कादी सहना से सेवानिवृत्त होने पर विद्यालय परिवार की ओर से प्रेमचंद मीणा व देवेंद्र दाधीच की अगुवाई में विद्यालय में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ उन्हें विदाई दी गई। इस मौके पर राष्ट्रीय कवि डॉ कैलाश मंडेला, संचिना कला संस्थान के अध्यक्ष रामप्रसाद पारीक, डीएमएफटी व सर्तकता समिति के मेंबर राजकुमार बेरवा, सरपंच भगवत सिंह राणावत, पुनित मंडेला सहित कई जनप्रतिनिधि व सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान समूचे पंचायत क्षेत्र के विभिन्न विद्यालयों से सभी विद्यार्थियों को बुलाया गया था तथा उनको सामूहिक भोज कराया गया। बाद में घोड़ी पर बैठा कर प्रधानाचार्य मंडेला को पूरे गांव में शोभायात्रा के रूप में ले जाया गया। उसके बाद शाहपुरा के गांधीपुरी में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानाचार्य मंडेला का सामाजिक संगठनों की ओर से स्वागत अभिनंदन किया गया। इस दौरान साहित्य सृजन कला संगम के अध्यक्ष जयदेव जोशी, शिक्षा विभाग के पूर्व उपनिदेशक विष्णु दत्त शर्मा, तेजपाल उपाध्याय, शंकर लाल जोशी के अलावा एपीपी एडवोकेट हितेश शर्मा, पूर्व पालिका उपाध्यक्ष नमन ओझा, सनाढ्य समाज के जनप्रतिनिधि, पुखराज जोशी, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय शाहपुरा के स्टाफ गण, संगीतकार बालकिशन बीरा, अतिरिक्त मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी द्वारका प्रसाद पारीक, भारत विकास परिषद के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर कमलेश पाराशर, सामाजिक कार्यकर्ता राजेंद्र बोहरा, बंकट सिंह शक्तावत, पंडित सुनील जोशी, सत्यव्रत वैष्णव, शिव जोशी, विजय सिंह नरूका, श्यामसुंदर सनाढ्य, एडवोकेट विनोद सनाढ्य, एडवोकेट अंकित शर्मा सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार