अजमेर तिराहे पर अचेत मिले संत ने तोड़ा दम, पुलिस कर रही है पहचान के प्रयास

 


    भीलवाड़ा हलचल। शहर के अजमेर तिराहे पर अचेत मिले अज्ञात संत ने उपचार शुरू होने के कुछ देर बाद ही जिला अस्पताल में दम तोड़ दिया । पुलिस ने मृतक संत की पहचान के प्रयास शुरू किया है। पुलिस का कहना है कि संत बरसनी क्षेत्र के एक मंदिर पर रहा करते थे,लेकिन उनके पैतृक निवास का पता नहीं चल पाया है।                             

       सुभाष नगर थाने के सहायक उपनिरीक्षक साबिर मोहम्मद ने हलचल को बताया कि रविवार शाम को अजमेर तिराहे पर एक बुजुर्ग संत अचेत अवस्था में मिले। संत को 108 एंबुलेंस जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें भर्ती कर  उपचार किया जा रहा था, लेकिन कुछ देर बाद ही उनकी सांसे थम गई ।पुलिस ने संत का शव मोर्चरी में सुरक्षित रखवाया है। पुलिस का कहना है कि मृतक संत के पास आधार कार्ड भी मिला जिस पर संत का नाम नारायण दास पुत्र वृंदावन दास निवासी नाथू बांका खेड़ा, बरसनी लिखा हुआ था ।साथ ही संत के पास मिले बिग पर हनुमानगढ़ी पायरा चौराहा स्थित खड़ेशवरी महाराज मंदिर का पता भी लिखा मिला। पुलिस के अब तक के प्रयास से यही पता चला कि उक्त संत वरसनी क्षेत्र के एक मंदिर पर रहा करते थे, लेकिन वे मूल रूप से कहां के रहने वाले हैं। इसका पता अभी नहीं चल पाया है। पुलिस उनके परिजनों का पता लगाने का प्रयास कर रही है ताकि शव उन्हें सौंपा जा सके।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत