सड़क चौड़ी करने की मांग को लेकर विधायक का पुतला फूंका, अवस्थी ने कहा विरोध करने वाले बाहरी

 


भीलवाड़ा (हलचल)। रेलवे पटरी पार संतोषी मार्ग को चौड़ा कर सौ फिट रोड से जोडऩे की मांग को लेकर आज महिलाओं और लोगों ने कलक्ट्री पर प्रदर्शन किया और विधायक विट्ठलशंकर अवस्थीर पर रोड बनाने में रूकावट का आरोप लगाते हुए उनका पुतला फूंका। जबकि विधायक का कहना है कि प्रदर्शन करने वालों में अधिकांश लोग उन कॉलोनियों के रहने वाले नहीं है। वहीं उन्होंने कहा कि सड़क बनाने के लिए तोड़े जाने वाले मकान मालिकों को मुआवजा देने की उनकी मांग है।
संतोष कॉलोनी, शिवनगर, बाबाधाम, श्यामनगर, मारूति कॉलोनी, शिवम ग्रीन आदि क्षेत्र के रहने वाले लोगों ने आज जिला कलक्टर कार्यालय पहुंचकर प्रदर्शन किया और रेलवे लाईन के पश्चिम दिशा में मेवाड़ टेक्सटाईल मिल से मारूति कॉलोनी तक अधूरे पड़े सौ फिट रोड को बनाने की मांग की। आरोप लगाया कि इस रोड को बनाने में विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी रोड़ा बने हुए है। उन्होंने ज्ञापन में तर्क दिए है कि बारिश के दौरान रेलवे अण्डरब्रिज पानी से भर जाता है जिससे लोगों को ओवरब्रिज होकर अपने घरों में पहुंचना पड़ता है या रेलवे पटरी से होकर गुजरना पड़ता है जिससे कई बार जनहानि हो चुकी है। वर्तमान में जो रोड दस बारह फिट का बना हुआ है वह पर्याप्त नहीं है। इस क्षेत्र में रहने वाले लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। नगर विकास न्यास ने करोड़ों रुपए की लागत से सौ फिट रोड का निर्माण कराया है लेकिन यह अधूरा होने के कारण लोगों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिला कलक्टर को इस बारे में पहले भी ज्ञापन दिया जा चुका है लेकिन अभी तक सर्वे में ही मामला अटका हुआ है। ज्ञापन देने तेजेन्द्र सिंह ने कहा कि वे एक माह बाद आन्दोलन करेंगे जबकि एक अधिवक्ता कन्हैयालाल तेली ने कहा कि भूमाफिया की आड़ में इस रोड के निर्माण को रोके जाने का प्रयास किया जा रहा है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आज तो विधायक का पुतला ही फूंक रहे है। अगली बार रोड़ा बनने वाले लोगों को घरों से उठाकर उन्हें चूडिय़ा पहनाई जायेगी। इसके बाद विधायक के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला फूंका गया।
बाहरी व्यक्ति कर रहे है प्रदर्शन, सहमति से हटाओ मकान, मैं तैयार हूं-अवस्थी
विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी ने आज किये गए प्रदर्शन को लेकर कहा कि आज लोग प्रदर्शन करने आये उनमें अधिकांश लोग बाहरी कॉलोनियों के है। प्रभावित होने वाले क्षेत्र के नहीं है। उन्होंने कहा कि मकान तोड़े लेकिन उन्हें उचित मुआवजा मिले और आपसी सहमति बनाये उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। 
उधर 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार