चाकू की नौंक पर छाऊ को लूटने वाली गैंग के तीन सदस्य बापर्दा गिरफ्तार, बाल अपचारी निरुद्ध

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। व्यासजी का बड़ला गांव में बकरियां चराने वाली बुजुर्ग महिला से चाकू की नौंक पर गहने लूटने वाली गैंग के तीन सदस्यों को मंगरोप पुलिस ने गिरफ्तार व एक बाल अपचारी को बापर्दा निरुद्ध किया है। ये आरोपित लूट के एक अन्य मामले में चित्तौडग़ढ़ जेल में बंद थे।  
 मंगरोप थाने के सहायक उप निरीक्षक सत्यनारायण शर्मा ने बीएचएप को बताया कि चार नवंबर को व्यासजी का बड़ला गांव की छाऊ 62 पत्नी दल्ला जाट हमेशा की तरह बकरियां चराने बड़लियास रोड़ पर गई। गांव से करीब 800 मीटर दूर जंगल में वह सड़क पर बैठी थी, जबकि बकरियां सड़क किनारे चर रही थी।  सुबह  करीब 11.40 से 12 बजे  के बीच दो बाइक पर 4 बदमाश बैठ कर आये थे । दोनों बाइक से एक-एक आरोपित नीचे उतरा और छाऊ के सात ग्राम सोने के टोप्स लूट लिये। इन बदमाशों ने छुर्रा बताकर छाऊ को अंग्रेजी बबूल मे ले जाने की कोशिश की, तभी एक बाइक सवार को आता देखकर बदमाश भाग गये। इस संबंध में महिला के भतीजे भैंरूलाल पुत्र कन्हैयालाल जाट ने मंगरोप थाने में रिपोर्ट दी, जिसमें बताया कि अगर बाइक सवार नहीं आता तो ये बदमाश उसकी काकी की चांदी की कडिय़ां व हाथ में चांदी के कड़े ले जाते एवं उसकी काकी के हाथ पैर काट देते।  टोप्स खींचने से छाऊ के कान फट गये थे। पुलिस ने इस मामले की जांच कर रही थी। इस बीच, छाऊ के साथ लूटपाट करने वाली गैंग ने इस वारदात के दो घंटे बाद चित्तौडग़ढ़ जिले के साड़ास थाना इलाके में लूट की एक और अंजाम दिया। इस मामले में साड़ास थाना पुलिस ने गैंग को गिरफ्त में लेकर कोर्ट के आदेश से जेल भिजवा दिया था। 
उधर, मंगरोप थाना पुलिस ने आरोपितों का कोर्ट से प्रोडक्शन वारंट प्राप्त किया। इसके बाद व्यासजी का बड़ला गांव की छाऊ जाट से लूट के मामले में बाल अपचारी को निरुद्ध, जबकि बिजयपुर थाने के दूदीतलाई निवासी अरुण पुत्र जानकीलाल कंजर, भरत पुत्र श्यामलाल कंजर व मोती मंगरी, बिजयपुर निवासी पीलेश उर्फ पीवलिया पुत्र कालूराम कंजर को चित्तौडग़ढ़ जेल से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बाल अपचारी को बाल सुधारगृह भिजवा दिया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग