एकतरफा प्यार में जंग हार गया यश, प्रेमिका की शादी से आहत होकर मार ली कनपटी पर गोली

 

भीलवाड़ा (हलचल)। एक तरफा प्यार के शिकार हुए यश व्यास ने कल रात महात्मा गांधी अस्पताल के मुख्य प्रवेश द्वार मार्ग पर अपनी कनपटी पर गोली मारकर खुदकुशी कर ली। अपने साथ पढऩे वाली छात्रा का कुछ दिनों पहले ही विवाह हुआ था। इससे वह आहत था।
उप पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र दायमा ने यह जानकारी देते हुए हलचल को बताया कि कारोई के निकट छोटे से गांव मेघरास में खेती करने वाले व्यक्ति का छोटा बेटा यश गांव के संस्कृत विद्यालय के 11वीं क्लास का छात्र था जिसने कुछ समय पहले पढ़ाई छोड़ दी और कोटड़ी चारभुजा में किसी दुकान पर सेल्समेन काम करने लगा। चार-पांच दिन पहले वह रिको फोर्थ फेज में रहने वाले अपने बड़े भाई और छोटी बहन के पास आकर रहने लगा। कल रात नौ बजे वह घर से निकला था। जब घर वालों को यह पता नहीं था कि वह फिर घर नहीं लौटेगा।
दायमा ने बताया कि अस्पताल मार्ग पर 11 बजे के लगभग फायर की आवाज से आस पास का क्षेत्र गूंज उठा और वहां लोग जमा हो गये। इस बात की जानकारी मिलने पर वह और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। जहां पड़ताल करने पर पता लगा कि युवक मेघरास का रहने वाला 17-18 वर्षीय यश व्यास है। प्रारंभिक जांच पड़ताल में चिकित्सकों ने भी उसके सुसाइड के प्रयास की बात कही। इस पर पुलिस ने अभय कमाण्ड के कैमरे खंगाले तो उसमें यश स्कूटर से अस्पताल की ओर जाता नजर आया। उसने बीच में स्कूटर रोका और कुछ कदम चलने के बाद अपनी कनपटी पर रिवाल्वर लगाकर फायर कर दिया जिससे वह नीचे गिर पड़ा। यहां खून का रैला सड़क पर फैल गया। पास ही रिवाल्वर व मोबाइल भी पड़ा था । पुलिस ने मोबाईल खंगाला तो उसकी प्रेम कहानी की झलक मिली। मोबाइल और पूछताछ में यह बात सामने आई कि वह किसी सहपाठी से एक तरफा प्यार करता था और उसकी पिछले सप्ताह ही शादी हो गई थी। उसने मोबाइल में भी लिखा कि वह उसे किसी और के साथ नहीं देख सकता। आत्महत्या के पीछे प्रारंभिक कारण तो यही सामने आये है कि वह एकतरफा प्यार करता था और उसमें विफल रहा। उसने अपने दोस्तों और बहन को भी इस तरह की जानकारी दी बताते है। मोबाइल के जरिए सोशल मीडिया पर उसने दोस्तों और अपनी मां को भी याद किया था और मां के लिए तो लिखा कि अगले जन्म में भी उसे यही मां मिले और किसी से प्यार नहीं करने की बात भी लिखी है। 
रात 11 बजे फायर की आवाज के बाद सिर में छेद होने से यश व्यास गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसे महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन अति गंभीर होने से उसे उदयपुर रेफर कर दिया। आज सुबह 8.30 बजे उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस आत्महत्या के पीछे के कारणों के साथ ही रिवाल्वर के बारे में भी जांच पड़ताल कर रही है कि आखिर यह आई कहां से। इसके लिए उसके मोबाइल को भी खंगाला जा रहा है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती